Home लाइफ वास्तु दोष क्यों बन रहा है परिवार में होने वाले झगड़े की वजह

वास्तु दोष क्यों बन रहा है परिवार में होने वाले झगड़े की वजह

by Darshana Bhawsar
vastu

क्या आप भी यही सोच रहे हैं कि परिवार में रोजाना हो रहे झगड़ों की वजह वास्तु दोष हो सकता है तो जी हाँ ऐसा बिल्कुल संभव हैं। आज हम यहाँ देखेंगे आखिर कौन से वो 5 वास्तु दोष हैं जिनकी वजह से झगडे संभव है। परिवार में अगर किसी भी कारण रोज झगडे होते हैं तो मन में और परिवार में अशांति का माहौल बना रहता है जो नकारात्मक उर्जा को आकर्षित करता है और ऐसे में कई बार घर बर्बाद होने की स्थिति में भी आ जाते हैं। ऐसा होने से पहले ही अगर घर को बचा लिया जाये तो परिवार को बचा लिया जाये तो इससे बड़ी बात और कुछ नहीं हो सकती। तो चलिए देखते हैं परिवार में रोज रोज होने वाले झगडे की वजह ये 5 वास्तु दोष के बारे में।

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर का सामान रखें

उत्तर पूर्व दिशा:

क्या आप जानते हैं उत्तर पूर्व दिशा का महत्व? अगर नहीं तो आपकी जानकारी के लिए उत्तर पूर्व दिशा को ही ईशान कोण के नाम से जाना जाता है और इस दिशा वाला भाग उठा हुआ होना अशुभ माना जाता है इससे परिवार में कलह होती है आपसी मतभेद होते हैं। तो अगर आपके घर का ईशान कोण भी ऊपर उठा है तो उसका निवारण कीजिये।

रसोई घर के लिए वास्तु टिप्स

स्टोर रूम गलत दिशा में होना:

स्टोर रूम कभी भी घर के उत्तर पूर्व कोने में नहीं होना चाहिए इससे घर के सदस्यों के बीच झगडा हो जाता है और घर में नकारात्मकता फैली रहती है। स्टोर रूम के लिए हमेशा दक्षिण पश्चिम या पश्चिम दिशा को ही चुनें। ये दिशा स्टोर रूम के लिए बिल्कुल सही होती है।

रसोई एवं बाथरूम:

अगर आपका किचन और बाथरूम गलत दिशा में निर्मित हुआ है तो उससे घर और परिवार में रोजाना लड़ाई की स्थिति उत्पन्न होती है। आपसी मनमुटाव होते हैं। बाथरूम कभी भी उत्तर पूर्व दिशा में नहीं होना चाहिए। किचन दक्षिण पूर्व में होना चाहिए और बाथरूम दक्षिण पश्चिम दिशा में होना चाहिए। टॉयलेट उत्तर पूर्व दिशा में न होकर किसी भी अन्य दिशा में हो सकता है।

क्या वास्तु शास्त्र चमत्कार है?

बिजली उपकरण:

बिजली का भी वास्तु से लेना देना है जिसके बारे में हम शायद नहीं सोचते। उत्तर पूर्व दिशा में बिजली के उपकरण रखने से भी परिवार के सदस्यों के बीच लड़ाई की स्थिति उत्पन्न होती है। इसलिए बिजली के उपकरणों को इस दिशा में न रखें।

कूड़ादान की दिशा:

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के उत्तर पूर्व दिशा में कूड़ादान नहीं होना चाहिए इसका स्थान हमेशा घर का पूर्वी भाग ही होना चाहिए। अगर दिशा चयन गलत है तो इसे सही करें और तनाव और पारिवारिक झगडे से बचें यह बहुत आवश्यक है।

वास्तु शास्त्र का इतिहास

तो अब तो आप समझ ही गए होंगे कि किस प्रकार से वास्तु शास्त्र घर में होने वाली लड़ाई झगडे का कारण हो सकता है। इसलिए इसका निवारण करें और आपसी संबंधों में मधुरता बनाये रखें यह बहुत आवश्यक है।

Read More Article On Family In Hindi

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.