Home लाइफमाइंड एंड बॉडी मानसिक थकान सेहत के लिए क्यों हानिकारक होती है?

मानसिक थकान सेहत के लिए क्यों हानिकारक होती है?

by Darshana Bhawsar
depression

क्या आपको भी ऐसा महसूस होता है कि आपके दिमाग में बहुत सारी बातें चल रही हैं और आपका दिमाग शांत नहीं रहता, दुनिया भर की परेशानियाँ दिमाग में चलती हैं और इसके कारण आपको मानसिक थकान भी होती है। मानसिक थकान सेहत के लिए बेहद हानिकारक होती है और इसके कई कारण हैं। यहाँ हम जानेंगे कि मानसिक थकान सेहत के लिए क्यों हानिकारक होती है।

stress

योग से माइंड एंड बॉडी कण्ट्रोल करना है आसान

मानसिक थकान सेहत के लिए क्यों हानिकारक होती है:

आरामदायक होती हैं माइंड एंड बॉडी थेरेपी

मानसिक थकान सेहत के लिए बहुत ज्यादा हानिकारक होती है इससे कई प्रकार से व्यक्ति को हानि होती है जैसे:

  • नींद न आना।
  • मोटापा बढ़ना।
  • मधुमेह की समस्या।
  • ब्लड प्रेशर बढ़ना।
  • तनाव होना।
  • अवसाद होना।

माइंड एंड बॉडी के बीच संबध को जानना है जरुरी

जब व्यक्ति मानसिक तनाव जैसी परिस्थिति से गुजरता है तो उसे इस प्रकार की समस्याएं होती हैं और नींद न आना,मोटापा बढ़ना, मधुमेह, तनाव यह सब एक के बाद व्यक्ति को अपने जकड में ले लेता है। कभी-कभी तो व्यक्ति इसके कारण पागल भी हो जाता है, क्योंकि तनाव इतना अधिक बढ़ जाता है कि व्यक्ति की सोचने और समझने की शक्ति खत्म हो जाती है। अगर आप मानसिक थकान से ग्रसित हैं तो आपको इसके कुछ लक्षण दिखाई देंगे अगर आप इन लक्षणों को पहचान लेते हैं तो आप अन्य बिमारियों से बच सकते हैं।

स्वस्थ सेहत का राज है माइंड एंड बॉडी मैडिटेशन

मानसिक थकान के लक्षण:

  • नींद की कमी होना।
  • भूख कम या अधिक लगना।
  • अचानक से मोटापा बढ़ जाना या वजन कम हो जाना।
  • किसी भी चीज़ पर ध्यान केन्द्रित न कर पाना।
  • नकारात्मक सोच दिमाग में आना।
मधुमेह

बुक पढ़ने के फायदे

जब मानसिक थकान होती है तो इस प्रकार के लक्षण देखने में आते हैं। अगर आपको भी इस प्रकार के लक्षण अपने अन्दर महसूस होते हैं तो इसका मतलब है कि आप मानसिक थकान से ग्रसित हैं। इससे बचने के लिए आपको कुछ उपाय करना चाहिए।

मेडिसिन से हो सकता है नुकसान

मानसिक थकान से बचने के उपाय:

  • योग।
  • मैडिटेशन।
  • व्यायाम।
  • डीप ब्रिथिंग।
  • ॐ का उच्चारण।

माइंड एंड बॉडी स्पा लेने का सबसे आसान तरीका

अगर आपको अपने अन्दर मानसिक थकान के लक्षण महसूस हो रहे हैं तो आप ये सभी उपाय करें इनसे मानसिक थकान नहीं होगी और आपका दिमाग शांत रहेगा। जब दिमाग शांत नहीं रहता और उसमें 10 प्रकार की चीज़ें या टेंशन चलती रहती हैं तो मानसिक थकान होती है, मानसिक संतुलन बिगड़ने लगता है। मानसिक संतुलन बिगड़ते-बिगड़ते उस स्थिति में आ जाता है कि व्यक्ति पागल भी हो सकता है। इसलिए अपनी मानसिक सेहत पर ध्यान दें।