Home हेल्थआयुर्वेदिक तनाव दूर करने के लिए अपनाएं ये आयुर्वेदिक टिप्स

तनाव दूर करने के लिए अपनाएं ये आयुर्वेदिक टिप्स

by Darshana Bhawsar
Published: Last Updated on
health

आज के समय में जिस प्रकार का माहौल है और जिस तरह से लोग नौकरी और अन्य चीज़ों में व्यस्त हैं उनको तनाव और अवसाद होना सामान्य बात है। अगर तनाव से मुक्ति पाना है तो आपको अपनी दिनचर्या को बदलना होगा, इसके लिए आपको कई कार्य करने होंगे जैसे व्यायाम, सही खान पान, समय पर सोना और समय पर जागना। इसके अलावा आज हम आपको बताने जा रहे हैं तनाव से राहत पाने के लिए आयुर्वेदिक टिप्स। जिनके द्वारा भी आप तनाव से राहत पा सकते हैं।

पत्तोंकाकाढ़ा

आयुर्वेद के अनुसार रात के समय किन 5 चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए?

तनाव से राहत पाने के लिए आयुर्वेदिक टिप्स:

  1. पत्तों का काढ़ा
  2. शंखपुष्पी
  3. नीम का शरबत
  4. जामुन की गुठली का चूर्ण
  5. हरी सब्जियों का जूस

पत्तों का काढ़ा:

पत्तों का काढ़ा बहुत फायदेमंद होता है इसमें आप इन पत्तों को शामिल करें आंवला, जामुन, आम, अमरुद एवं गिलोय। 4 गिलास पानी लें उनमें इन सभी पत्तों को डाल दें उसके बाद इसे इतना उबालें कि एक चौथाई पानी रह जाये। अब इसे सिप सिप करके पियें। इससे तनाव तो दूर होता ही है साथ ही शरीर से कई रोग भी दूर होते हैं जैसे मधुमेह, त्वचा रोग, बालों का झाड़ना, मोटापा इत्यादि।

शंखपुष्पी

शंखपुष्पी:

शंखपुष्पी एक बहुत ही उम्दा आयुर्वेदिक औषधि है जिसका प्रयोग अधिकतर लोग याददाश्त बढ़ाने के लिए करते हैं। बच्चों को यह औषधि अधिकतर तब लेने को कहा जाता है जब बच्चे का दिमाग कमजोर होता है वह तनाव में  होता है। इसको वैसे तो किसी भी उम्र के लोग ले सकते हैं इसके कोई नुक्सान नहीं है।

आयुर्वेद अवतरण से तात्पर्य

नीमकाशरबत

नीम का शरबत:

नीम वैसे त्वचा की हर बीमारी के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होती है इसके साथ ही अगर मिश्री और नीम का शरबत पिया जाए तो इससे तनाव से भी राहत मिलती है। नीम का शरबत सुबह सुबह खाली पेट पीना चाहिए इस समय पीने से ही यह फायदा करता है।

जामुनकीगुठलीकाचूर्ण

जामुन की गुठली का चूर्ण:

जामुन की गुठली को सुखाकर उसके चूर्ण का प्रतिदिन सेवन करने से तनाव से राहत मिलती है इसके साथ ही मधुमेह और चरम रोगों से भी मुक्ति मिलती है। यह एक बहुत ही अच्छी आयुर्वेदिक टिप्स है जिससे आपको अवसाद और तनाव से मुक्ति मिलेगी।

हरीसब्जियोंकाजूस

हरी सब्जियों का जूस:

हरी सब्जियों जैसे पालक, लौकी का जूस प्रदीन पीना चाहिए जिससे तनाव में राहत मिलती है इसमें तनाव से मुक्त होने वाले तत्व पाए जाते हैं। चाहें तो सब्जियों का मिक्स जूस भी आप पी सकते हैं। इनके कई प्रकार के फायदे हैं। जब आप यह पियेंगे तो आपको महसूस होगा।

कैल्शियम की कमी पूरी करने की आयुर्वेद टिप्स

ये कुछ आयुर्वेदिक टिप्स हैं जिनसे तनाव से मुक्ति मिलती है इसके अलावा आपको मैडिटेशन एवं योग करना चाहिए इससे भी मानसिक संतुलन बना रहता है और यह बहुत ही फायदेमंद टिप्स है इसके कई अन्य फायदे भी हैं।

स्वस्थ जीवन शैली के लिए इन 9 सरल सुझावों का करे पालन

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.