Home फिटनेसयोग चर्म रोगों के लिए योग उपचार सबसे अच्छा साबित हुआ

चर्म रोगों के लिए योग उपचार सबसे अच्छा साबित हुआ

by Darshana Bhawsar
yoga

आज के समय में बढ़ते प्रदुषण के कारण अक्सर लोग चर्म रोगों से बहुत ही परेशान हैं और चर्म रोगों के लिए योग को सबसे अच्छा उपचार माना गया है। योग से कई प्रकार के छोटे और बड़े रोगों से छुटकारा मिल सकता है। लेकिन योग को अपने जीवन में उतारना और नियमित उसका प्रयोग करना बहुत जरुरी है। कई प्रकार के शोध के बाद यह निश्चित किया गया है कि योग के द्वारा किसी भी चर्म रोग से छुटकारा पाया जा सकता है। चर्म रोगों के लिए कुछ विशेष योग होते हैं जिनसे आप चर्म रोगों से हमेशा के लिए मुक्ति प्राप्त कर सकते हैं।

Halasna

इसे भी पढ़ें: हृदय रोगों के लिए योग है वरदान

 चर्म रोगों के लिए योग:

 कपालभाति

 उत्तानासन

 सर्वांगासन

 सूर्य नमस्कार

 हलासन

इसे भी पढ़ें: नींद के लिए योग करना है सबसे अच्छा उपाय

ये सभी योग चर्म रोगों के लिए बहुत उत्तम उपचार हैं। अगर किसी को कील मुहासे या काले दाग हैं तो वे इन योग से उपचार स्वयं ही कर सकते हैं। कुछ ही दिनों में उनकी समस्याएँ ठीक हो जाएँगी।

Sarvangasana

 चर्म रोगों के कारण:

 अनिद्रा।

 पौष्टिक भोजन न मिलना।

 शरीर में पानी कि कमी।

 मोटापा।

 प्रदुषण।

इसे भी पढ़ें: योगासन से करें हर रोग का इलाज

इन सभी कारणों से त्वचा रोग होने की सम्भावना होती है। अगर चर्म रोगों के लिए योग या आयुर्वेद का सहारा लिया जाये तो ही इन्हें पूर्ण रूप से ठीक किया जा सकता है। एलोपेथी दवाइयाँ चर्म रोगों को पूर्ण रूप से ठीक करने में उतनी सक्षम नहीं हैं जितना कि योग और आयुर्वेद। योग से उपचार से किसी भी प्रकार के दुष्परिणाम नहीं है। इसलिए यह कई बार सिद्ध हुआ है कि योग चर्म रोगों के लिए सबसे उत्तम उपचार है। एवं योग के द्वारा चर्म रोग ही नहीं कई अन्य रोगों से भी मुक्ति मिल सकती है।

Uttanasana

योग से इन रोगों को भी ठीक किया जा सकता है:

 अस्थमा

 मोटापा

 अनिद्रा

 रक्तचाप

 मधुमेह

 तनाव इत्यादि।

इसे भी पढ़ें: हृदय रोगों के लिए योग है वरदान

ऐसी और कई बीमारियाँ हैं जिनसे छुटकारा दिलाने में योग को विशेष स्थान दिया गया है। योग एक बहुत ही उत्तम उपचार है जो रोगों को जड़ से नष्ट करने में सहायक है। योग एक बहुत ही पुरानी पद्धति है एवं हमारे ऋषि मुनि ने इस पद्धति का उपयोग करके एवं इस पर विश्लेषण करके कई प्रकार
के रोगों को दूर किया एवं इसमें सिद्धि हासिल की। कई हज़ार वर्षों से यह योग प्रणाली चली आ रही है। अब भारत से बाहर भी योग को बहुत अधिक महत्व दिया जा रहा है।

yoga

इसे भी पढ़ें: वजन घटाने के लिए रामबाण हैं ये योगासन

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.