Home फिटनेस पुश अप्स करने का सही तरीका क्या होना चाहिए ?

पुश अप्स करने का सही तरीका क्या होना चाहिए ?

by Mahima
correct way to do push ups

ऐसा कौन सा व्यक्ति होगा जो वर्कआउट करने का शौक़ीन हो और पुश-अप्स न करता हो। देखा जाये जो वर्कआउट करने का प्रथम चरण ही पुश-अप्स से शुरू होता है। यह एक साधारण एक्सरसाइज है जिसे अगर सही से किया जाये तो इससे अनेकों लाभ मिलते हैं। इस एक्सरसाइज को करने का फायदा यह होता है की इससे आपकी अप्पर बॉडी की पूरी कसरत हो जाती है। इस एक्सरसाइज को कहीं भी किया जा सकता है, सबसे अच्छी बात यह की इस एक्सरसाइज को करने के लिए किसी भी प्रकार की मशीन और सामान कि जरुरत नहीं होती है। अपने कंधे और सीने को चौड़ा करने के लिए  पुशअप्‍स से अच्‍छा व्‍यायाम कोई नहीं हो सकता। परन्तु इस व्याम को करने से पहले कुछ बातों की जानकारी होना बहुत आवश्यक होती है,जिससे आप बेहतर परिणाम प्राप्त कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: मजबूत और सुडौल बॉडी पाने के लिए पुरुष अपनाये ये बॉडी वेट एक्सरसाइज

आइये जानते है की पुश-अप्स करने का सही तरीका क्या होना चाहिए :

पुशअप्‍स करने से पहले थोड़ा वार्म-अप करना आवश्यक होता है। क्‍योंकि पुशअप्‍स स्‍ट्रेंथ ट्रेनिंग एक्‍सरसाइज का एक प्रकार है। हलके फुल्के वार्मअप से आपका  शरीर  एक्‍सरसाइज के लिए तैयार हो जाता है।

इसे भी पढ़ें: मन को करना है शांत तो रोज करें ध्यान

विधि :

  • पुश अप्स एक्सरसाइज के लिए सबसे पहले समतल जगह का चुनाव करे।
  • फिर उस समतल जगह पर अपनी सुविधानुसार चटाई या मैट बिछा लें।
  • सबसे पहले पेट के बल सीधा लेट जाए और पुरे शरीर को सीधा रखे।
  • अपना पूरा वजन हाथो और पैरों के पंजो पर रखे। घुटने और पैरों को भी सीधा रखें।
  • अब अपने पूरे शरीर को हवा में थोड़े समय के लिए रखें।
  • धीरे धीरे अपने शरीर को अपनी कोहनिया मोड़ते हुए नीचे लेके जाएँ।
  • शरीर को नीचे ले जाते वक्‍त सांसों को बाहर छोड़ें और शरीर को ऊपर उठाते वक्‍त सांसों को अंदर की तरफ लें।
  • ध्यान रहे आपको अपने शरीर को नीचे की और ले जाते समय जमीन के उपर नही रखना है। नीचे जाते समय जब आपके शरीर ओर जमीन के बीच 1 इंच का फासला रह जाए तब आप अपने शरीर को वापिस उपर उठा ले।
  • पुशअप्‍स की शुरूआत अपनी क्षमता-अनुसार ही करें। इसके 3 सेट बना लीजिए, ये सेट 5-5 के भी हो सकते हैं या फिर 10-10 के भी हो सकते हैं। बाद में अपनी क्षमता-अनुसार इसकी संख्‍या बढ़ा सकतें हैं।

इसे भी पढ़ें: कारण जो मानसिक तनाव बढ़ा कर रोने पर मजबूर कर देते हैं

रिपोर्ट: डॉ.हिमानी

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.