Home प्रेगनेंसी & पेरेंटिंग प्रेग्नेंसी किट का प्रयोग करते समय ध्यान रखने वाली बातें

प्रेग्नेंसी किट का प्रयोग करते समय ध्यान रखने वाली बातें

by Mahima

एक महिला के जीवन में किसी की पत्नी बनना बहुत ही मायने रखता है परन्तु  उससे भी अधिक मायने  एक  शिशु को जन्म देना रखता है। जब एक महिला को माँ बनने के संकेत मिलते हैं तो वह ख़ुशी से फूली नहीं समाती है पूरा परिवार उसकी देखभाल में लग जाता है। हर महिला चाहती है की डॉक्टर के पास जाने से पहले एक बार खुद से ही घर पर ही  प्रेग्नेसी टेस्ट द्वारा  गर्भवती होने के संकेतों को सुनिचित करलें। गर्भावस्था जांच के लिए कुछ बातों का खास ख्याल रखना आवश्यक होता है ताकि पॉजीटिव रिजल्ट का सही-सही पता लगाया जा सके। गर्भावस्था जांच के बाद परिणाम सकारात्मक आने के बाद डॉक्टर से सलाह लेना शुरु कर देना चाहिए। प्रेग्नेंसी किट का प्रयोग वैसे तो बहुत ही आसान है इसके प्रयोग से कुछ ही मिनटों में प्रेगनेंसी पॉजिटिव  है या निगेटिव का पता लगाया जा सकता है लेकिन प्रेग्नेंसी किट के प्रयोग  से पहले कुछ बातों के बारें में जानना  बहुत ही जरुरी है।

इसे भी पढ़ें: प्रग्नेंसी के दौरान ना करें यह एक्सारसाइज, बच्चे के लिए हो सकती है हानिकारक

फर्स्ट मॉर्निंग यूरिन का प्रयोग : प्रेग्नेंसी टेस्ट के लिए सुबह के पहले यूरिन का प्रयोग करना उचित होता है क्योंकि सुबह के यूरिन में सबसे अधिक मात्रा एचसीजी हॉर्मोन पाया जाता है। एचसीजी हार्मोन महिलाओं में आमतौर पर बनने वाला वह हार्मोन है जो कि गर्भावस्था के दौरान विकसित होता है। जब कोई महिला गर्भवती होती है तो लगभग 10 दिन बाद HCGहार्मोन महिला के यूरीन और खून में स्रावित होता है। इस हार्मोन के उपस्थित होने के कारण ही महिला प्रेग्नेंसी किट द्वारा गर्भावस्था का पता लगा सकती हैं। रात भर के यूरिन में एचसीजी हॉर्मोन अधिक मात्रा में पाया जाता है अतः सुबह का यूरिन  प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए एकदम उपयुक्त होता है।

इसे भी पढ़ें: चीनी का प्रयोग करके पता लगाएं की आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं

प्रेग्नेंसी किट पर दिए गए निर्देशों का सही से पालन करें : घर पर टेस्ट करने के लिए सबसे पहले आपको किट पर लिखे दिशा निर्देशों का सही से पढ़ना चाहिए फिर किट पर उपस्थित निर्देशों का सही पालन करते हुए किट का प्रयोग करना चाहिए। क्योकि दिए गए सुझावों का पालन करके ही आप सही रिजल्ट पा सकते हैं।

समय का रखें ख्याल: प्रेग्नेंसी टेस्ट करते वक्त सही समय को नोट करना बहुत जरूरी है। कितने समय आपको रिजल्ट का इंतजार करना है, कब तक यह टेस्ट वैध है। जब तक आपके पास पूरी जानकारी नहीं होगी आप सही से टेस्ट नहीं कर पाएगीं।

कप का प्रयोग करने से झिझके नहीं: यूरिन को एकत्रित करने के लिए कप के प्रयोग में झिझके नहीं, अगर निर्देशों में लिखा गया है कि कप का प्रयोग किया जाना चाहिए तो जरुर करें।

प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें : बाजार में उपलब्ध ज़्यादातर प्रेगनेंसी किटों पर यह निर्देश लिखा होता है कि स्टिक को मूत्रधारा के बीच में रखने के बाद इसे एक समतल सतह पर रखें और कुछ मिनट इंतजार करें। जबकि कुछ अन्यों में स्टिक को मूत्र के कप में डुबोने की सलाह दी जाती हैI वहीं कुछ के साथ ड्रॉपर भी दिया जाता हैI हर जांच किट में दिए गए निर्देशों को ध्यानपूर्वक पढ़कर इनका पालन करें। प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए मूत्र की केवल दो-तीन बूंदे ही पर्याप्त होती हैं।

किट पर दिए गए टोल नंबर पर कॉल करें : कई बार किट का प्रयोग सही प्रकार से न होने पर रिजल्ट सही नहीं आ पाते हैं, ऐसी अवस्था में किट पर लिखे नंबरों पर कॉल करके कस्टमर केयर  द्वारा  बात करके अपनी समस्या से निजात पा सकते हैं।

रिपोर्ट: डॉ.हिमानी

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.