Home प्रेगनेंसी & पेरेंटिंग प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स, शिशु के लिए किस हद तक सुरक्षित है ?

प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स, शिशु के लिए किस हद तक सुरक्षित है ?

by Mahima
pregnancy sex

प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करना ठीक है या नहीं यह विचार हर प्रेग्नेंट महिला तथा उसके पार्टनर को आता है। प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स को लेकर अलग-अलग बातें या तर्क सामने आते रहते हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ जोड़ों में अधिक सेक्स की तरफ झुकाव होता है और कुछ में कम और दूसरी तरफ कुछ जोड़े गर्भ में पल रहे बच्चे की सुरक्षा के लिहाज से सेक्स से बचते हैं। परन्तु विशेषज्ञोंका मानना है कि प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से कोई नुक्सान नहीं होता है बल्कि प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स लाभदायक होता है। परन्तु इसके लिए आवशयक है की आपको सही जानकारी और उससे जुडी सावधानियों के बारे में सही जानकारी होनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: बदलते मौसम में कैसे रखें अपने शिशु का ध्यान, पढ़ें यहां

आइये जानते है प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स की क्या भूमिका होती है:

विषेशज्ञों के अनुसार प्रेग्नेंसी के शुरुआती तीन महीने में सेक्स से बचना ही सही होता है क्योंकि इन्ही तीन महीनों में भ्रूण विकास के चरण में होता है, और ऐसे में गर्भपात का खतरा अधिक हो सकता है। इन सुरु के तीन महीनो के बाद आप सातवें या आठवें महीने तक आराम से सेक्स कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: गर्भावस्था के शुरूआती तीन महीनों में किन बातों का रखें ध्यान

यह माना जाता है कि प्रेग्नेंसी के आखिरी कुछ हफ्तों में सेक्स नहीं करना चाहिए, क्योंकि इससे समय से पहले डिलीवरी हो सकती है या फिर बच्चे को नुकसान हो सकता है। लेकिन जानकारों के मुताबिक अगर इस दौरान पार्टनर या गर्भवती महिला को सेक्स में तकलीफ हो तो सेक्स करने से बचना चाहिए।

डॉक्टरों के मुताबिक जैसे-जैसे प्रेगनेंसी पीरियड बढ़ती जाती है आपको सावधानियां बरतनी चाहिए। गर्भवास्था में महिलाओं का पेट चौथे या पांचवें महीने के बाद बढ़ता है और ऐसी स्थिति में सेक्स सहज नहीं रहता और उसमें तकलीफ होने की संभावना बनी रहती है।

इसे भी पढ़ें: गर्भावस्था के शुरूआती तीन महीनों में किन खाद्य पदार्थों के सेवन से बचें

यदि आपकी प्रेग्नेंसी पूरी तरह से सुरक्षित है तो इस दौरान सेक्स करने में कोई भी नुक्सान नहीं है परन्तु कब और किस प्रकार किया जाये और किन बातों का ध्यान रखा जाये इसके लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लेना न भूलें।

रिपोर्ट: डॉ.हिमानी

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.