Home लाइफवास्तु टिप्स नींबू का पौधा घर में लगाना शुभ या अशुभ

नींबू का पौधा घर में लगाना शुभ या अशुभ

by Darshana Bhawsar
lemon

नींबू एक ऐसा पौधा है जिसके बारे में सभी जानते हैं। अगर हम पुराने रिवाजों के अनुसार सोचेंगे तो कई प्रकार की बातें सामने आती है कि क्या शुभ होता है और क्या अशुभ होता है। ऐसी ही कुछ बातें पेड़, पौधों और रंगों को लेकर होती आई हैं। और उसी अनुसार आज तक हम भारतीय कई चीज़ों को शुभ और अशुभ मानते हैं। लेकिन कई बार हम बिना सोचे समझे इस बारे में राय दे देते हैं जो अक्सर नुकसानदायक होता है। पेड़, पौधे लगाना गलत नहीं होता बस उन्हें वास्तु के अनुसार लगाना होता है। अगर नींबू के पेड़ की बात की जाये तो उसे लगाना भी अशुभ नहीं होता। पहले के समय में लोग वास्तु के प्रति इतने जागरूक नहीं थे इसलिए वे कई चीज़ों को शुभ और अशुभ कहते थे। यहाँ आज हम बात करने जा रहे हैं नींबू का पौधा घर में लगाना शुभ है या अशुभ।

इसे भी पढ़ें:कोरोना वायरस से बचने का तरीका

  • नींबू का पौधा घर में लगाना शुभ या अशुभ:
lemon
Buy From Amazon.com

यह आज के समय में बहुत बड़ा प्रश्न है कि घर में नींबू का पेड़ लगाना शुभ माना जाता है या अशुभ। तो यह शुभ होता है इसके कई प्रकार के सकारात्मक प्रभाव हैं। अगर वास्तु की दृष्टि से देखा जाए तो घर में नींबू का पेड़ लगाना चाहिए। अगर पुराने समय के लोगों की बात पर गौर करें तो घर में नींबू का पेड़ नहीं लगाना चाहिए। पुराने समय के लोगों का मानना था कि कोई भी कांटे वाले पेड़ या पौधा घर में नहीं लगाना चाहिए यह अशुभ होता है। लेकिन वास्तु विज्ञान ने इस सोच को पलट कर रख दिया। वास्तु के अनुसार कई ऐसे कांटे वाले पेड़ पौधे होते हैं जिन्हें घर में लगाना शुभ माना जाता है। ऐसा ही नींबू का पौधा होता है।

नींबू जैसे सेहत को फायदा पहुँचाता है वैसे ही वास्तु दोष को दूर करने के लिए भी नींबू सहायक होता है। आपने देखा ही होगा कि नज़र उतरने के लिए और बुरी नज़र से बचने के लिए नींबू का प्रयोग किया जाता है। वैसे ही अगर आप घर में नींबू का पौधा लगाते हैं तो इससे वास्तु दोष नष्ट होता है और साथ ही इससे नकारात्मक ऊर्जा भी दूर होती है।

अगर कोई व्यक्ति बीमार पढ़ गया है और कोई भी दवा उस पर कार्य नहीं कर रही तो उस स्थिति में काली स्याही से एक नींबू के ऊपर 307 लिखें और उस व्यक्ति के ऊपर से इसे उलटी तरफ से सात बार घुमाएं और वापस पेड़ में इसे डाल दें। आप देखेंगे कि व्यक्ति की तबियत ठीक होने लगती है।

  • डरावने सपनों से बचाये:

अगर किसी को भी डरावने सपने आते हैं जिसकी वजह से व्यक्ति सो नहीं पाता तो आप आप एक हरा नींबू लें और उसे रोज अपने पास रख कर सोएं। जब वह सुख जाये, तो दूसरा नींबू लें ऐसा आप पाँच बार लगातार करें। इससे आपको आने वाले डरावने सपने हमेशा के लिए गायब हो जायेंगे और आप चैन की नींद सो पाएंगे।

लेकिन नींबू के पेड़ को लगाने के लिए कुछ नियम होते हैं हर कही नींबू का पौधा नहीं लगाना चाहिए नहीं तो वह अशुभ हो सकता है।

इसे भी पढ़े: गर्भावस्था के दौरान होने वाले डिप्रेशन के प्रभाव

कभी भी भूलकर मुख्य द्वार पर नींबू का पौधा नहीं लगाना चाहिए। इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है। नींबू का पौधा घर में लगाना अशुभ नहीं होता लेकिन मुख्य द्वार पर लगाना अशुभ होता है। अगर मुख्य द्वार पर नींबू का पौधा होता है तो उसे कई प्रकार की मुसीबतें आपके जीवन और आपके परिवार वालों के जीवन में प्रवेश कर सकती हैं। इसलिए इस बात का विशेष ध्यान रखें।

हर कोई चाहता है कि घर का आँगन सुन्दर लगे उसमें कई प्रकार के पेड़ पौधे हों लेकिन एक बात का हमेशा ध्यान रखें। नींबू को आँगन के बीचों बीच कभी नहीं लगाना चाहिए। इससे कई प्रकार की मुसीबतें आप पर आ सकती हैं। लेकिन अगर आप नींबू का पौधा घर के आँगन में लगाना चाहते हैं या लगा चुकें हैं तो उसके चारों और तुलसी लगा दीजिये नींबू के पौधे की नकारात्मक ऊर्जा वहीं नष्ट हो जाएगी।

नींबू का पौधा लगाने के इन नियमों को हमेशा ध्यान में रखिये क्योंकि नींबू के पौधे को घर में लगाने के कई प्रकार के फायदे और नुकसान दोनों  ही हो सकते हैं। इसलिए इन बातों का विशेष ध्यान रखें। वैसे तो नींबू का पौधा लगाने के कई अनेक फायदे हैं जैसे:

  • बुरी हवाएं घर में प्रवेश नहीं कर पाती:

ऐसा माना जाता है कि अगर नींबू का पौधा घर में लगा हुआ होता है तो किसी भी प्रकार की नकारात्मक हवा घर में प्रवेश नहीं कर पाती अगर कोई नकारात्मक ऊर्जा घर में प्रवेश करने की कोशिश भी करती है तो वह वापस लौट जाती है। इसलिए कहा जाता है कि घर के किसी कोने वाले स्थान पर नींबू का पौधा लगाना चाहिए जहाँ गंदगी न हो।

  • बच्चों की नज़र उतरने के लिए नींबू का प्रयोग:
lemon
Buy From Amazon.com

जब छोटा बच्चा दूध उलटने लगता है और पानी पीना बंद कर देता है इसका मतलब है कि बच्चे को नज़र लगी है वह बैचैन है। बहुत छोटा बच्चा अपने मुँह से नहीं बोल पाता कि उसे किस प्रकार की तकलीफ हो रही है। लेकिन अगर ऐसा हो रहा है तो पेड़ से एक बेदाग़ नींबू लें और उसे बीच से आधा काट दें। कटे हुए भाग में काले दिन के दाने भर दें और उस पर काला धागा लपेट दें। अब इस नींबू को बच्चे पर उल्टी तरफ से 7 बार उतारें और इसे किसी बिना जल वाले स्थान पर फेंक दें। थोड़ी ही देर में ही बच्चे को आराम लग जायेगा।

इसे भी पढ़ें:जाने क्या है कोरोना वायरस और इसके लक्षण?

ये कुछ उपाय हैं जो आप करके देखें, इनसे फायदे होते हैं। और स्वास्थ्य की दृष्टि से देखें तो भी नींबू और नींबू का पौधा बहुत ही अच्छा माना जाता है। इसलिए कम से कम एक नींबू का सेवन प्रतिदिन करना चाहिए।

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.