Loading...

काजू का सेवन करेगा डिप्रेशन को छूमंतर

by Mahima

आज की इस भाग-दौड़ भरी जिंदगी में अधिकांश लोग डिप्रेशन का शिकार है। डिप्रेशन के दौरान इंसान के शरीर में खुशी देने वाले हॉर्मोन्स जैसे कि ऑक्सिटोसीन का बनना कम हो जाता है। यही वजह है कि डिप्रेशन से पीड़ित  व्यक्ति चाहकर भी खुश नहीं रह पाते  डिप्रेशन से पीड़ित व्‍‍यक्ति की नींद और भूख भी बिगड़ जाती है।  डिप्रेशन की वजह से दिल और मस्तिष्क से जुड़ी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। वैज्ञानिको के अनुसार यह एक अनुवांशिक बीमारी है। यह बीमारी  किसी भी उम्र में हो सकती  है। एंटी डिप्रेशन दवाओं के  प्रयोग से डिप्रेशन काफी हद तक सही भी हो सकता है। परन्तु  दवाओं के अतिरिक्त कई घरेलु उपपायों को अपनाकर भी इससे मुक्ति पाई जा सकती है। काजू के सेवन से डिप्रेशन को दूर करने में बहुत मदद मिलती है।

काजू में ऐसे पोषक तत्व पाए जाते है जो नेचुरल तरीके से डिप्रेशन को दूर करने में सहायक  होते है। काजू में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम  पाया जाता है जो हमारे शरीर में सेरोटोनिन के लेवल को बढ़ाने में सहायक होता है। सेरोटोनिन इंसान को अंदर से खुश रखने में सहायक होता है। काजू प्रोटीन से भरपूर होता है। काजू में कॉपर की भरपूर मात्रा होने के कारण ये एन्ज़ाइम एक्टिविटी , हॉर्मोन उत्पादन और मस्तिष्क के कार्य को सँभालने में फायदेमंद  साबित  होता है। नियमित रूप से खाली पेट काजू को शहद के साथ मिलाकर खाते है से याददाश्त तेज होती है।

काजू में मोनो सैचुरेटड फैट पाया जाता है, जो की दिल को स्वस्थ रखने में सहायक होता है और दिल की बीमारियों के खतरे को कम करता है। काजू  कोलेस्‍ट्रॉल फ्री होता है। काजू को दूध में मिलाकर त्वचा पर लगाने और इससे मसाज करने से चेहरा सुंदर और मुलायम बनता है। काजू में पोटैशियम, विटामिन ई, सेलेनियम और जिंक जैसे लाभकारी पोषक तत्व भी पाए जाते हैं, अतः यह ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल करने में, कैंसर से बचाव करने में तथा संक्रमण से लड़ने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

रिपोर्ट: डॉ.हिमानी

Loading...

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.