Home स्वास्थ्य टिप्स World Hepatitis Day 2020: 32.5 करोड़ हेपेटाइटिस इन्फ़ेक्शन

World Hepatitis Day 2020: 32.5 करोड़ हेपेटाइटिस इन्फ़ेक्शन

by Naina Chauhan
hepatitis day

क्या आप जानते हैं की दुनिया में 32.5 करोड़ लोग किसी ना किसी हेपेटाइटिस इन्फ़ेक्शन के साथ जी रहे हैं? इससे भी ज़्यादा ध्यान देने वाली बात ये हैं कि लगभग इनमे से 90 % लोग वाईरल हेपेटाइटिस से ग्रसित हैं और वो इसके बारे में जानते तक नही हैं।

पूरे विश्व में विश्व हेपेटाइटिस दिवस 28 जुलाई को मनाया जाता है। ये दिवस लोगों में इस बिमारी की रोकथाम, परिक्षम और इस बिमारी की जागरुकता फैलाने के लिए मनाया जाता है। हेपेटाइटिस से हर साल करीब 14 लाख लोगों की मौत होती है। चलिए जानते हैं क्या है हेपेटाइटिस, लक्षण और इसके बचाव…

इसे भी पढ़ें: कोरोना का पता लगाने के लिए सरकार मे लांच किया मोबाइन ऐप, 2 मिनट में बताएगा कोरोना वायरस है या नहीं!

क्या है हेपेटाइटिस

हेपेटाइटिस एक वायरस इंफेक्शन है तो लिवर में होने वाली सूजन का कारण बनता है। यह आमतौर पर वायरल इंफेक्शन से फैलता है लेकिन इसके अलावा भी दूसरे माध्यमों से हेपेटाइटिस हो सकता है, जैसे- ऑटोइम्यून हेपेटाइटिस (जब हमारा शरीर लिवर में एंटी बॉडीज बनाने लगता है) और मेडिकेशन, ड्रग्स, टॉक्सिन्स और एल्कोहल के चलते होने वाला हेपेटाइटिस।

खामोश बीमारी है हेपेटाइटिस

हेपेटाइटिस एक ऐसी बीमारी है जिसकेलक्षण बहुत देरी से दिखते हैं। लक्षण दिखने तक लिवर का 60-70 परसेंट हिस्सा खराब हो जाता है। इसमें 10-15 साल लग जाते हैं। जिन्हें सर्जरी हुई ब्लड चढ़ा, एक्सीडेंट हुआ या फिर किसी की फैमिली हिस्ट्री है वे साल में एक बार जरूर स्क्रीनिंग कराएं।

इसे भी पढ़ें: लहसुन और शहद के चमत्कारी लाभ जानते है आप ?

सबसे भयावह बात यह है कि मरीज को पता ही नहीं होता कि वो इस वायरस से संक्रमित है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसका कोई लक्षण नहीं दिखाई देता। अगर इस वायरस का उपचार नहीं किया गया तो लिवर कैंसर जैसी गंभीर बीमारी भी पैदा कर सकता है।

हेपेटाइटिस के लक्षण

थकान, फ्लू जैसे लक्षण, पेशाब का पीलापन बढ़ना, पेट दर्द, भूख कम लगना, अचानक वजन कम होना, पीलिया की तरह त्वचा और आंखों का पीलापन, क्रॉनिक हेपेटाइटिस के मामलों के लक्षण जल्दी और स्पष्ट नहीं दिखाई देते।

हेपेटाइटिस की रोकथाम

साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। टैटू के लिए स्टरलाइज नीडल का इस्तेमाल करें। सुरक्षित शारीरिक संबंध बनाएं। अपने टूथब्रश और रेजर किसी के साथ साझा न करें। शराब का सेवन न करें या अत्यंत कम मात्रा में करें।