Home प्रेगनेंसी & पेरेंटिंग गर्भावस्था के दौरान किन सप्लीमेंट को करें अपनी डाइट में शामिल

गर्भावस्था के दौरान किन सप्लीमेंट को करें अपनी डाइट में शामिल

by Mahima
Pregnancy

हर गर्भवती चाहती है कि उसकी होने वाली संतान सुंदर और तेज दिमाग की हो, इसके लिए वह हर संभव प्रयास करती है कि जिससे उसकी संतान स्वस्थ और तेज मस्तिष्क के साथ इस दुनिया में कदम रखें। स्वस्थ संतान को जन्म देने के लिए माँ को गर्भावस्था के दौरान अपना विशेष ध्यान रखना पड़ता है, जिसमे सुबह उठने से लेकर सोने तक की दिनचर्या शामिल होती है। गर्भावस्था में विशेष तौर पर माँ के खान पान का ध्यान रखना जरुरी होता है क्योकि माँ के शरीर द्वारा ही जरुरी पोषक तत्व उसकी होने वाली संतान तक पहुंचते हैं।

इसे भी पढ़ें: गर्भावस्था से जुड़े कुछ आम मिथक

आइये जानते हैं गर्भावस्था के दैरान किन खाद्य पदार्थो का सेवन जरुरी होता है :

विटामिन डी युक्त सप्लीमेंट : बच्चे के मानसिक और शारीरक विकास के लिए विटामिन डी बहुत आवश्यक होता है। देखा गया है यदि गर्भावस्था के दौरान यदि माँ ने विटामिन डी का सेवन कम किया गया तो उनकी होने वाली संतानों में दिमागी विकास की कमी रहती है। सूर्य की रोशनी विटामिन डी का सबसे अच्छा स्त्रोत है लेकिन दोपहर की धूप नहीं, सुबह की धूप फायदेमंद होती है, इससे चर्म रोग होने का खतरा भी कम हो जाता है। इसके अतिरिक्त आपको विटामिन डी के अन्य सप्लीमेंट भी लेने चाहिए जैसे अंडा (मुख्यतः अंडे के बीच का पीला भाग), चीज़, मशरूम, फैटी फिश, फोर्टिफाइड सीरियल्स(अनाज), गाजर,दूध, दही और अन्य मिल्क प्रोडक्ट्स।

इसे भी पढ़ें: पिता बनने का एहसास, पुरुषों में क्या लाता है बदलाव

आयोडीन युक्त सप्लीमेंट : आयोडीन बच्चे के मानसिक विकाश में महत्वपूर्ण भूमिका रखता है, अतः गर्भवती को अपने भोजन में आयोडीन की उचित मात्रा का उपयोग करना अनिवार्य होता है। आयोडीन की पूर्ति के लिए गर्भवती महिला को भुने हुए आलू रोज़ खाने चाहिए। आलू के छिलके में आयोडीन, पोटेशियम और विटामिन उचित मात्रा में पाया जाता है ।एक आलू में लगभग 40% आयोडीन पाया जाता है। इसके अतिरिक्त दही, मुनक्का, ब्राउन राइस तथा सी फूड भी आयोडीन के अच्छे स्त्रोत हैं।

इसे भी पढ़ें: बदलते मौसम में कैसे रखें अपने शिशु का ध्यान, पढ़ें यहां

कैल्‍शियम युक्त सप्लीमेंट : अंजीर में कैल्‍शियम और आयरन बहुत पाया जाता है साथ ही फाइबर भी कुछ कम नहीं होता। हर तरह की पत्‍तेदार सब्‍जियां चाहे वह पालक हो या फिर ब्रॉक्‍ली, कैल्‍शियम से भरपूर होती हैं। फलों में संतरा, केला , सेब कैल्‍शियम का अच्छा स्रोत माने जाते हैं। सोया मिल्क भी कैल्‍शियम से भरपूर होता है।

रिपोर्ट: डॉ.हिमानी

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.