Home स्वास्थ्य टिप्स अमरूद के पत्ते का प्रयोग क्या है?

अमरूद के पत्ते का प्रयोग क्या है?

by Naina Chauhan
guava

अमरूद को सुपर फ्रूट्स में से एक माना जाता है क्योंकि यह कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है l यह विटामिन सी, लाइकोपीन और एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता है जो त्वचा के लिए फायदेमंद होते हैं।

guava

इसे भी पढ़ें: गोमुखासन से गठिया को कहिए ना

फलों के साथ अमरूद की पत्तियों के भी कई सारे फायदे होते है l अमरूद के पत्तों का उपयोग कई बीमारियों में होता आ रहा है l

1. दस्त

अमरूद की पत्तियों और जड़ को एक कप उबलते पानी में मिलाएं, पानी को छीलें और खाली पेट इसका सेवन करें।

अमरूद की पत्तियाँ स्टैफिलोकोकस ऑरियस बैक्टीरिया की वृद्धि को रोकती है, जो दस्त का एक सामान्य कारण है। दस्त से पीड़ित लोग जो अमरूद की पत्ती की चाय पीते हैं, उन्हें पेट में दर्द कम होता है, दस्त कम होते है और वे जल्दी ठीक होते है।

2. पाचन में सहायता

पाचन एंजाइम उत्पादन को बढ़ावा देकर अमरूद की पत्तीया पाचन में मदत करती है। इनमें स्थित शक्तिशाली जीवाणुरोधी तत्व आंत की परत में बैक्टीरिया को मारते हैं और बैक्टीरिया द्वारा विषाक्त एंजाइमों के प्रसार को रोकते हैं।

अमरूद की पत्तियां विशेष रूप से भोजन की विषाक्तता के साथ-साथ उल्टी और मतली में फायदेमंद होती हैं।

पेट दर्द से राहत पाने के लिए अमरूद के पत्तों को 1.5 लीटर पानी में उबालें और दिन में तीन बार पियें।

3. वजन घटाने में सहायता

weight-lose

अमरूद जटिल स्टार्च को शर्करा में परिवर्तित होने से रोककर वजन घटाने में सहायता करता है।

इसे भी पढ़ें: बच्चों के लिए क्यों जरूरी है टीकाकरण ?

इससे शरीर में संचित कार्ब्स को शर्करा में परिवर्तित किया जाता है और जो वजन घटाने में सहायता करता है l

4. घटाए ब्लड ग्लूकोज़ लेवल

जापान में किये गए अध्ययन के अनुसार, अमरूद की पत्ती की चाय डायबिटीज के रोगियों में अल्फा-ग्लूकोसिडेज एंजाइम गतिविधि को कम कर ब्लड ग्लूकोज़ लेवल कम करने में मदत करती है।

इसके अलावा, यह शरीर द्वारा सुक्रोज और माल्टोज़ के अवशोषण को रोकता है, जिससे रक्त शर्करा का स्तर कम होता है।

12 सप्ताह के लिए अमरूद के पत्ते की चाय पीने से इंसुलिन उत्पादन में वृद्धि के बिना रक्त शर्करा का स्तर कम हो जाता है।

5. कोलेस्ट्रॉल कम करे

अनुसंधान ने साबित किया है कि ३ महीने तक अमरूद की पत्तीवाली चाय पीने से एलडीएल या खराब कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स की मात्रा में कमी आती है और इसका अच्छे कोलेस्ट्रॉल पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है।

इसके अलावा, अमरूद की पत्तियां एक बढ़िया यकृत टॉनिक हैं।

6. सर्दी, खांसी में उपयोगी

cold-

अमरूद के पत्तों में विटामिन सी और आयरन की मात्रा अधिक होती है और अमरूद की पत्तियों का काढ़ा कफ और सर्दी से राहत दिलाने में बहुत मददगार होता है क्योंकि यह बलगम से छुटकारा दिलाने में मदद करता है।

इसे भी पढ़ें: क्या अस्थमा है हृदय रोग होने का लक्षण

7. मौखिक स्वास्थ्य

oral equipment

अमरुद के पत्तियों में वेदनाशामक, एंटी-इंफ्लेमेटरी और जीवाणुरोधी गुण होने के कारण यह दांतों में दर्द, मसूड़ों के इन्फेक्शन या सूजन, मुँह के छाले जैसी आम समस्याओं में काफी असरदार है I

इन समस्याओं को ठीक करने के लिए पत्तियों को पीसकर पेस्ट बनाले और इसे मसूड़ों और दांतों पर लगाएं।

8. त्वचा के लिए है लाभदायक

skin

अमरुद की पत्तिया कसैली होती है और इनमें मौजूद विटामिन सी त्वचा के स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है l

इनका काढ़ा चेहरे पर लगाने से चेहरे की मांसपेशियों के टोनिंग और कसने में मदद मिलती है ।

पत्तियों को पीसकर लेप लगाने से मुहांसे कम होने में मदत मिलती है l

इसे भी पढ़ें: किन गलत आदतों के कारण हमारा दिमाग कमजोर हो जाता है?

9. एलर्जी कम करे

अमरूद की पत्तियां हिस्टामाइन की रिलीज को रोकती हैं। इसके अलावा, अमरूद की पत्तियों में पाए जानेवाले यौगिक एलर्जी प्रतिक्रियाओं को रोकने में प्रभावी होते हैं।

इस वजह से खुजली से छुटकारा पाने के लिए अमरूद की पत्तियां एक प्रभावी इलाज हैं l

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.