Home हेल्थ सोते वक्त मुंह से लार बहने से क्या होता है नुकसान

सोते वक्त मुंह से लार बहने से क्या होता है नुकसान

by Mahima
sleep

मानव शरीर में अन्य ग्रंथियों की तरह एक लार ग्रंथि भी होती है। यह एक ऐसी ग्रंथि होती है जो हमे खाना पचाने में मदद करती है। यह शरीर के बाहर या अंदर पदार्थों का आदान-प्रदान भी करती है। लार में बलगम, लवण, जीवाणुरोधी यौगिक, एंजाइम और पानी जैसे कई अवयव होते हैं।

इसे भी पढ़ें: आपकी आंखों को खराब कर सकते हैं कॉन्ट्रेक्ट लैंस

हमारे शरीर में लार ग्रंथि का होना बहुत जरूरी है, इसका संबंध हमारे पूरे शरीर से है। जब आप गहरी नींद से सोकर जागते हैं तो अक्सर आपने देखा होगा कि आपके मुंह के किनारे से लार की पतली सी धार बह रही होती है। हालांकि सोते हुए लोगों के मुंह से लार बहना बहुत आम बात है लेकिन कई बार ये किसी गंभीर बीमारी का संकेत भी होता है। आइये पहले जानते हैं कि आपकी नींद और लार बहने के बीच क्या संबंध है।

इसे भी पढ़ें:  मीठी नीम का ये उपचार आपकी आंखों का करेगा इलाज, पढ़ें यहां

कब बहती है लार

आप नींद में होते हैं तो आप और आपकी चेहरे की नसें आराम के मूड में होती हैं। इसलिए ऐसे में जब आपके लार के ग्लैंड्स लार तैयार करते हैं तो वो बहने लग जाती है क्योंकि आप उसे निगलते नहीं हैं।अगर आपकी सोते हुए लार बहती है तो आपने देखा होगा कि लार आमतौर पर तभी बहती है जब आप करवट लेकर सोते हो। जाने क्या होते है लार बहने के कारण।

इसे भी पढ़ें: आंखों के फड़कने के पीछे क्या है राज

साइनस इंफेक्शन

श्वास नलिका के संक्रमण आमतौर पर सांस लेने और निगलने की समस्याओं से जुड़े होते हैं। इन समस्याओं में लार जमा हो जाने से मुंह से बहने लगती है। साथ ही, जब फ्लू के कारण नाक बंद होती है तो आप खासतौर पर रात को अपने मुंह से सांस लेते हैं और ऐसे में आपके मुंह से लार बहने लगती है।

एलर्जी

नाक से संबंधित एलर्जी और कुछ खाने पीने की चीज़ों से होने वाली एलर्जी की वजह से लार का अधिक निर्माण हो सकता है और वो बह सकती है।शरीर में लार बनाने वाले अलग से ग्लैंड्स होते हैं। सोते समय जागते समय की अपेक्षा अधिक लार का निर्माण होता है।

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.