Home लाइफमाइंड एंड बॉडी मल्टीटास्किंग बनने से व्यक्तित्व में क्या बदलाव आते हैं

मल्टीटास्किंग बनने से व्यक्तित्व में क्या बदलाव आते हैं

by Mahima
multitasking personalites

सीखने की प्रकिर्या का कोई अंत नहीं, जीवन में जितना सीखो उतना कम है। ऐसे में कुछ सिमित ज्ञान के साथ जीवन में आगे बढ़ने की कल्पना करना भी मुश्किल जान पड़ता है। समय के साथ चीजों में बदलाव लाते रहना चाहिए क्योंकि जो चीजें आप पहले से जानते हैं वह भविष्य में आपके काम नहीं आती हैं। इसलिए जीवन में नई चीजें सीखना जरुरी होता है। मौजूदा कुशलता से चिपके रहना आपके रेस में पीछे छूट जाने की वजह बन सकता है। अतः आज के जीवन में यदि आप नई तकनीकियों को नहीं  सीखेंगे तो कामयाबी की सीढ़ी पर आगे कदम नहीं बढ़ा पाओगे। देखा गया है की मल्टीटास्किंग लोग ही कामयाबी को गले लगाते हैं जीवन में हर मोढ़ पर हमेशा कुछ नया सीखना  लाभकारी होता है।

इसे भी पढ़ें: संकेत जो बताते हैं कि आप मानसिक और भावनात्मक रूप से तनाव ग्रष्त हैं

आइए जानते है नई चीजे सीखने से जीवन में क्या लाभ होते हैं :

जीवन को रोमांचक बनाता है: एक ही रूटीन को अपनाकर जीवन में बोरियत हो जाती है अतः जीवन में नई नई चीजे जैसे की आप कुकिंग, म्यूजिक, ड्राविंग, डांस, स्वीमिंग सीख कर अपने जीवन को रोमांचित बना सकते है।

खुशी का अहसास: जब आप अपने डेली जीवन में अलग अलग काम करते है तो आपको ख़ुशी का अनुभव होता है। डेली रूटीन में कुछ नए कामों को करने के बाद जो परिवर्तन आते हैं वह हमारी ख़ुशी को बढ़ा देते हैं।

गर्व का अनुभव: जीवन में कुछ नया करने और सीखने के बाद जो गर्व का अनुभव होता है वह शब्दों में नहीं बताया जा सकता है। चाहे नया कुछ छोटा सीखा हो या बड़ा दोनों ही अवस्थाओं में अपने आप को और परिवारजनों को गौरवान्वित होने का मौका प्रदान करता है।

अवधारणा की समझ होती है: अवधारणा की समझ होना सीखने की प्रक्रिया का एक मूल हिस्सा है। ये अवधारणाएँ हमारे लिए कोई और नहीं बना सकता, वे हमें ही बनानी पड़ती हैं। किसी एक अवधारणा में कई अवधारणाएँ और भी निहित होती हैं, जिसे हम सब अक्सर नजरअंदाज कर देते हैं। इस प्रकिर्या में छोटी-छोटी अवधारणा स्पष्ट होती हैं जो की हमारे समझ के स्तर में गुणात्मक वृद्धि करती हैं।

इसे भी पढ़ें: अगर आपको है डिप्रेशन, तो आप जल्द हो सकते हैं इस बीमारी के शिकार

रिपोर्ट: डॉ.हिमानी

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.