Home फिटनेसवजन घटाना वजन कम करने के लिए आयुर्वेदिक घेरलू उपाय

वजन कम करने के लिए आयुर्वेदिक घेरलू उपाय

by Darshana Bhawsar
weight lose

क्या आप जानते हैं कि मानव शरीर की रचना पाँच तत्वों से मिलकर हुई है, पृथ्वी, अग्नि, जल, आकाश और वायु। और इन पाँच तत्वों को संतुलित बनाये रखने के लिए मनुष्य को कई कार्य करने होते हैं जैसे संतुलित आहार। संतुलित आहार शरीर को स्वस्थ रखने में बहुत सहायक होता है। नित्य व्यायाम भी शरीर के लिए बहुत आवश्यक है। अगर आप मोटे हैं और अपना मोटापा दूर करना चाहते हैं तो वजन कम करने के लिए आयुर्वेदिक घेरलू उपाय अपनाये। ये घरेलु उपाय शरीर से अतिरिक्त चर्बी को करके आपके शरीर को फिट रखेंगे। साथ ही रोगों से भी मुक्ति दिलाने में आपकी सहायत करेंगे।

इसे भी पढ़ें: डिलीवरी के बाद मां और शिशु के लिए लाभकारी खाद्य पदार्थ

बहुत सी चीज़ें हमारे घर में ही होती है जो एक दवा की तरह कार्य करती हैं लेकिन हम इन्हें नज़रअंदाज करते हैं। आप सभी ने आयुर्वेद का नाम तो सुना ही होगा। आयुर्वेद एक ऐसी चिकित्सा है जिसके द्वारा आप घर में प्रयोग हो रहे खाने की चीज़ों का प्रयोग करके कई प्रकार के रोगों से मुक्ति पा सकते हैं। आज हम आपको वजन कम करने के लिए आयुर्वेदिक घेरलू उपाय बताने जा रहे हैं। आप इन उपाय को करके बहुत ही कम समय में अपना मोटापा कम कर सकते हैं।

  • हल्दी:

हल्दी वजन कम करने के लिए एक बहुत ही अच्छा उपचार है। अगर आप रोज हल्दी का सेवन किसी न किसी प्रकार से करते हैं तो आपका वजन तो कम होगा ही साथ ही आपको कई रोगों से छुटकारा भी मिलेगा। हल्दी में कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। हल्दी को आप दूध में मिलाकर रात को सोते समय पियें या फिर भुनी हुई हल्दी को गरम पानी के साथ लें। सर्दियों में हल्दी बहुत फायदेमंद होती है। इसलिए आप सर्दियों में हल्दी का सेवन करें। अधिक गर्मी में हल्दी का सेवन न करें। वजन कम करने के लिए आयुर्वेदिक घेरलू उपाय में हल्दी का विशेष योगदान है।

इसे भी पढ़ें: सब्जियों के जूस से करें मोटापा कम

  • त्रिफला, आँवला और हरड़:

त्रिफला, आँवला और हरड़ का चूर्ण बाजार में आसानी से मिल जाता है। इसे खाने से पेट साफ़ होता है और पेट के कई रोगों से मुक्ति मिलती है। अगर आप वजन कम करने के लिए आयुर्वेदिक घेरलू उपाय में त्रिफला, आँवला और हरड़ का चूर्ण रोज रात को सोने से पहले गुनगुने पानी के साथ लेते हैं तो आपका मोटापा कुछ ही दिनों में गायब हो जायेगा। यह एक आयुर्वेदिक उपचार है जिसे वर्षों से लोगों द्वारा अपनाया जा रहा है और इसके सफल परिणाम भी देखने को मिलते हैं।

  • ताँबे के बर्तन का पानी पियें:

ताँबे के बर्तन का पानी अमृत के सामान माना जाता है अगर आप ताँबे के बर्तन का पानी पीते हैं तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत ही उम्दा माना जाता है। मोटापा कम होने के साथ ही साथ इससे कई प्रकार के रोग भी मिटते है जैसे चर्म रोग, मधुमेह, हृदय रोग इत्यादि। पहले के समय में लोग ताँबे के बर्तन में पानी पीते थे और इसलिए वे कई रोगों से मुक्त भी रहते थे। ताँबे का पानी बहुत शुद्ध माना जाता है। इसलिए अगर आप ताँबे के बर्तन का पानी प्रतिदिन पीते हैं या सुबह जल्दी उठकर पीते हैं तो इसके परिणाम बहुत ही उम्दा होंगे।

इसे भी पढ़ें: स्तनपान के दौरान ब्रेस्ट कम्प्रेशन के लाभ

  • मेथी का सेवन:

मेथी में सभी आयुर्वेदिक तत्व पाए जाते हैं। और मेथी के सेवन से बहुत ही जल्दी वजन पर भी नियंत्रण होता है। जब आप कोई भी सब्जी बनाये तो तेल में जीरे की जगह आप मेथी का प्रयोग करें। अगर आप मेथी रोज किसी न किसी तरह से सेवन करते हैं तो आपका वजन तो कम होगा साथ ही मधुमेह जैसे रोगों से भी निजात मिलेगा। वजन कम करने के लिए आयुर्वेदिक घेरलू उपाय में आप मेथी का उपयोग कर सकते हैं। रात को चम्मच मेथी  250 ऍम एल पानी में मिलकर रख दें और सुबह पानी को छान कर उस पानी को पियें। और जो बची हुई मेथी है उसका प्रयोग सब्जी की तरह करें। अगर आप प्रतिदिन मेथी कहते हैं तो आपको इसके परिणाम कुछ ही दिनों में देखने के लिए मिल जायेंगे।

इसे भी पढ़ें: इन घरेलु उपायों से करें अपने शिशु की सर्दी जुकाम से सुरक्षा

  • एलोवेरा:

एलोवेरा का आयुर्वेद में विशेष योगदान रहा है। दर्द को कम करने के लिए आयुर्वेद में हल्दी और एलोवेरा का प्रयोग किया जाता है और चर्म रोगों के लिए भी एलोवेरा का प्रयोग किया जाता है। इसलिए अगर आप एलोवेरा का प्रयोग नियमित रूप से करते हैं तो वजन कम होने के साथ-साथ आपको और भी कई फायदे मिलेंगे। एलोवेरा का जूस पीने से वजन तेजी से कम होता है और साथ ही मधुमेह जैसे रोग भी नष्ट होते हैं। अगर कहीं से ताजा एलोवेरा मिल जाये तो आप उसका जूस निकलकर रोज पियें।

  • तुलसी:

तुलसी को भी आयुर्वेद में वरदान माना गया है। तुलसी के प्रयोग से कई रोगों पर नियंत्रण किया जा सकता है जैसे मासिक धर्म की परेशानी, चर्म रोग, सांस की दुर्गन्ध, सर्दी-खांसी, दस्त और मोटापा। जी हाँ अगर तुलसी के पत्तों को रोज खाया जाये तो कई प्रकार के रोगों से मुक्ति मिलेगी। वजन कम करने के लिए आयुर्वेदिक घेरलू उपाय में यह मुख्य है। तुलसी हिदुस्तान में हर घर में मौजूद होती है। तुलसी दो प्रकार की होती है श्याम और राम। दोनों ही प्रकार की तुलसी सेहत के लिए अच्छी मानी जाती है।

इसे भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के बाद फिट रहने के लिए सही टिप्स

वजन कम करने के लिए आयुर्वेदिक घेरलू उपाय में इन सभी के नियमित प्रयोग से बहुत ही कम समय में आप अपना वजन कम कर सकते हैं। ये घरेलु उपाय वजन कम करने के साथ ही साथ आपको कई रोगों से मुक्ति भी दिलाएंगे। और भी कई उपाय हैं जिन्हें करने से आपका वजन बहुत ही कम समय में घट सकता है जैसे योग, व्यायाम, वॉक, जूस का सेवन, हरी सब्जियों का सेवन इत्यादि। इनसे भी शरीर में ऊर्जा का प्रवाह होता है और वजन कम करने में भी यह उपाय सहयोगी है। आप इन सभी को अपनाकर कम से कम 30 दिनों में अपना वजन कम कर सकते हैं वो भी 7 से 15 किलो तक।

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.