Home लाइफ स्टाइलन्यूट्रिशन शरीर में भी है विटामिन बी12 की कमी के लक्षण

शरीर में भी है विटामिन बी12 की कमी के लक्षण

by Mahima
vitamin b12

विटामिन बी एक ऐसा पोषक तत्व है जो स्वस्थ नसों और खून की कोशइकाओं को बनाये रखने में मदद करता है। लेकिन विटामिन बी-12 में किसी भी प्रकार की कमी आपके विभिन्‍न शारीरिक कार्यों में बाधा उत्‍पन्‍न कर सकता है। एक सामान्‍य, स्वस्थ व्यक्ति को दैनिक रूप से कम से कम 2.4 मिलीग्राम विटामिन बी 12 की खुराक की आवश्यकता होती है। इसलिए इसके स्तर की नियमित रूप से जांच करना जरूरी होता है अन्‍यथा बी 12 की कमी कई प्रकार के रोगों का कारण बन सकता है। आइए इस स्‍लाइड शो के माध्‍यम से विटामिन बी-12 की कमी के मौन संकेतों के बारे में जानें।

इसे भी पढ़ें: शरीर में विटामिन डी की कमी के क्या है कारण

पीलिया और डायबिटीज का खतरा

जब आपकी त्‍वचा अपनी स्‍वस्‍थ चमक खोने लगती है तो यह आपके आहार में पर्याप्‍त विटामिन बी-12 की कमी की संभावना को दर्शाता है। कुछ शोधकर्ताओं ने पाया है कि पीलिया गंभीर विटामिन बी-12 की कमी का परिणाम हो सकता है। इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि जितनी जल्‍दी हो सके अपनी जांच करवा लें। हर डायबिटीज से ग्रस्‍त व्‍यक्ति में विटामिन बी-12 की कमी नहीं पाई जाती है। लेकिन अगर आपको टाइप 1 या टाइप 2 डायबिटीज है तो विटामिन बी-12 की कमी होने की संभावना बढ़ जाती है।

इसे भी पढ़ें: विटामिन ‘के’ की पूर्ति के लिए करें इन सब्जियों का सेवन

थकावट

अत्यधिक थकान या कमजोरी और सांस की तकलीफ, इस तरह के सभी संकेतों पर आपको ध्‍यान देने की जरूरत है। इसके अलावा, विटामिन बी -12 की कमी के कारण लाल रक्त कोशिकाएं पर्याप्‍त मात्रा में ऑक्‍सीजन की आपूर्ति नहीं करती। जिसके कारण आपको कमजोरी महसूस होने लगती है।

इसे भी पढ़ें: क्यों आवश्यकता होती है मल्टी विटामिन्स को अपने डाइट में शामिल करने की ?

डिप्रेशन और डिमेंशिया का खतरा

सेरोटोनिन का स्‍तर कम, एक न्‍यूरोट्रांसमीटर जो आपको खुश रखता है, डिप्रेशन का कारण बन सकता है और विटामिन बी-12 इस न्‍यूरोट्रांसमीटर के उत्‍पादन में मदद करता है। इसलिए अगर आपको डिप्रेशन या अक्‍सर मूड में बदलाव दिखाई देता हे तो आपमें विटामिन बी-12 की कमी हो सकती है। इसके अलावा विटामिन बी 12 आपके दिमाग के कामकाज में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और इसकी कमी संज्ञानात्मक कार्य को प्रभावित करती है, जो स्मृति हानि और डिमेंशिया का कारण बन सकती है, विशेष रूप से वरिष्ठ नागरिकों में।

इसे भी पढ़ें: अगर आपके शरीर में है विटामिन ए की कमी, तो करें इन चीजों का सेवन

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.