शेयर करें

आजकल कमर दर्द की समस्या आम बात हो गयी है, केवल बुजुर्ग ही नहीं ही बल्कि आज कल युवा भी कमर दर्द की समस्या से जूझते रहते है। कमर दर्द किसी प्रकार की बीमारी नहीं है बल्कि यह शरीर का Mechanical Failure है। कमर दर्द  की समस्या अक्सर रीढ़ से जुडी होती हैं। हमारी रीढ़ की हड्डी स्पाइन वर्टिब्रा से मिलकर वनी होती है जिस पर हमारे पुरे शरीर का वजन टिका होता है। गलत तरीके से सोने ,बैठने और काम करने  से इस  डिस्क पर जोर पड़ता है, जिसकी वजह से मेरुदंड की नसों (Nerves) पर दबाव आ जाता है जो कमर में लगातार होने वाले दर्द का कारण बन जाता है। यह दर्द इतना कष्टदायक होता है कि आप अपने दैनिक कार्य भी सही प्रकार से नहीं कर पाते है।

आइये जानते है कुछ  घरेलू नुस्खों के बारे में जिनको अपनाकर आप कमर दर्द से निजात पा सकते हैं:

  • लगभग 60 ग्राम गेहूँ को पूरी रात पानी में भिगोने के बाद सुबह इसमें 30 ग्राम खसखस तथा 30 ग्राम धनिया मिलाकर बारीक पीस कर इसका पेस्ट  तैयार कर ले। अब इस पेस्ट को दूध में पकाकर इसकी खीर बना लें। इस खीर को दो तीन सप्ताह खाने से कमर का दर्द ठीक हो जायेगा। साथ ही इसके सेवन से शरीर में ताकत बढ़ती है और पाचन शक्ति मजबूत होती है |
  • आधा लीटर सरसों के तेल में 125 ग्राम लहसुन की कलियों को अच्छे से कूट ले इसके बाद इस मिश्रण को धीमी आंच पर धीमे धीमे गरम होने दे। जब लहसुन पक कर लाल हो जाए तब इसको आंच पर से हटा ले और ठंडा करके छानकर शीशी में भर कर रख ले। फिर इस तैयार तेल को कमर के दर्द के लिए मालिश के रूप में प्रयोग करें।
  • तीन चार चम्मच नमक को गरम तबे पर डालकर इसे अच्छे से पका लें। फिर इस नमक को मोटे सूती कपड़े में बांधकर पोटली बना लें। अब इस पोटली से कमर पर सिकाई करे इसके प्रयोग से कमर दर्द में काफी आराम मिलता है।
  • तारपीन के तेल से कमर की मालिश करने से भी कमर दर्द में आराम मिलता है।
  • खसखस और मिसरी दोनों की बराबर मात्रा लेकर पीसकर चूर्ण बनायें और इसे छः ग्राम (दो चम्मच) रोजाना सुबह शाम खाने और ऊपर से गर्म दूध पीने से भी पीठ के दर्द से छुटकारा मिलता है।
  • गुग्गल को पानी में उबालकर कमर पर लेप करने से दर्द ठीक होता है।

रिपोर्ट: डॉ. हिमानी