Home हेल्थआयुर्वेदिक घरेलु नुस्खे एवं आयुर्वेद के चमत्कार का अटूट रिश्ता

घरेलु नुस्खे एवं आयुर्वेद के चमत्कार का अटूट रिश्ता

by Darshana Bhawsar
घरेलु नुस्खे

आयुर्वेद एक ऐसी विद्या है जिसमें हर प्रकार के रोगों का इलाज संभव है। कुछ इलाज तो घर में उपयोग होने वाले सामान से किये जाते है जिन्हें हम आयुर्वेद के घरेलु नुस्खे का नाम देते हैं। आयुर्वेद के चमत्कार तो अनगिनत हैं। क्योंकि आयुर्वेद में कई ऐसे रोगों को जड़ से नष्ट किया गया है जो दुर्लभ हैं एवं आयुर्वेद में इनका कोई विपरीत दुष्परिणाम देखने को नहीं मिलता।

घरेलु नुस्खे एवं आयुर्वेद में अटूट रिश्ता है हम जो घर में उपयोग करते हैं वही चीज़ें आयुर्वेद में औषधि बनाने में उपयोग की जाती है। जैसे हल्दी, गुड, जीरा, अजवाइन, दूध, मक्खन इत्यादि। जी हाँ ये सभी चीज़ें आयुर्वेदिक औषधि बनाने के लिए उपयोग की जाती है। तो आयुर्वेद के घरेलु नुस्खे भी अनगिनत हैं।

घरेलु नुस्खे

अगर कभी चोट लग जाती है तो उस चोट के दर्द को नष्ट करने के लिए हल्दी वाला दूध उपयोगी माना जाता है। वैसे ही अगर अगर पेट में दर्द या गैस की समस्या हो तो अजवाइन को काला नमक के साथ लेने से यह परेशानी नष्ट हो जाती है। शहद का उपयोग खांसी एवं त्वचा के लिए किया जाता है। ऐसे ही अनगिनत आयुर्वेद के चमत्कार देखने के लिए मिलते हैं। और घर में रखे हुए सामान से कई प्रकार की समस्याओं का हल निकाला जा सकता है। इसलिए आयुर्वेद के चमत्कार एवं आयुर्वेद के घरेलु नुस्खे में गहरा सम्बन्ध देखने को मिलता है।

आयुर्वेद में किसी भी प्रकार की समस्या या रोग को आसानी से नष्ट करने की क्षमता होती है। लेकिन किसी भी रोग के इलाज में आयुर्वेद चिकित्सा समय अवश्य लेती है साथ ही किसी भी रोग को जड़ से समाप्त कर देती है। आज दुनिया बापस आयुर्वेद की तरफ अग्रसर हो रही है क्योंकि लोगों को आयुर्वेद से किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं है एवं किसी अन्य चिकित्सा के साथ भी आयुर्वेदिक औषधि का सेवन किया जा सकता है।

आयुर्वेद सबसे पुरानी चिकत्सा होने के साथ-साथ सबसे विश्वसनीय चिकत्सा भी है। अब आयुर्वेद में दी जाने वाली औषधि का असर जल्दी हो जाता है ज्यादा समय नहीं लगता लेकिन इन औषधियों के साथ परहेज की आवश्यकता जरुर होती है।

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.