Loading...

प्याज के छिलके में छिपा है सेहत का राज

by Mahima
onion

आजकल इस महंगाई के दौर में सब्जियां इतनी महंगी होती जा रही हैं कि उनको खरीदना भी बड़ा मुश्किल होता हैं। आज कल सब्जियों के दाम इतने बढ़ गए है कि इन सब्जियों के छिलके भी फेंकने का मन नहीं होता है, लगता है इन सब्जयों के छिलको को भी प्रयोग में ले लिया जाये। रिसर्च के अनुसार यदि अगर फल और सब्जियां ऑर्गेनिक और ताज़ी हैं, तो छिलके उतारने की आवश्यकता नहीं होती हैं, क्योंकि इनके छिलकों में ही सारा पोषण छिपा होता है। प्याज़ के छिलकों में प्राकृतिक हेयर डाई करने के गुण पाए जाते है। सिर्फ यही नहीं, अगर आप इन्हें खाना चाहते हैं, तो सूप या करी बनाते समय इनके छिलकों को डाल लें। फिर सर्व करने से पहले छिलके निकाल दें। प्याज़ के छिलके को ग्रीन टी या हर्बल टी के साथ गर्म करके, इसको छानकर पी सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: फ्लू सीजन से पहले क्यों जरूरी है फ्लू वैक्सीन? पढ़ें यहां

प्याज़ के छिलकों के फायदे:

1- एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर
रिसर्च के अनुसार, प्याज़ के छिलकों में फलों के मुकाबले अधिक एंटी-ऑक्सीडेंट्स उपस्थित होते हैं, जो शरीर को अंदर से साफ करते हैं। जिसकी वजह से हमारी इम्यूनिटी बढती है।
2- हर्ट अटैक से बचाव
इसमें लाभकारी फ्लेवोनोल भारी मात्रा में पाए जाते है, जो ब्लड प्रेशर को कम करके आर्टरीज को साफ करने का काम करते हैं। जिसकी वजह से, हार्ट अटैक आने की संभावना कम हो जाती है।
3-कैंसर होने से रोकता है
‘द जर्नल प्लांट फूड्स फॉर ह्यूमन न्यूट्रिशन’ में प्रकाशित एक रिसर्च के अनुसार, प्याज़ के छिलकों में हाई फाइबर उपस्थित होता है और कई लाभकारी कम्पाउंड्स जैसे- फ्लेवोनॉयड्स और फेनोलिक पाए जाते हैं जो हमारे कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ को सुधारने में मदद करते हैं। इनके उपयोग से सूजन और कैंसर का खतरा भी कम होता हैं।
4- गले की खराश सही करता है
पानी में प्याज़ के कुछ छिलके डालकर इनको उबाल लें और फिर इसे छानकर, गर्रारे करें। इससे गले को आराम मिलता हैं। चाय बनाते समय प्याज़ के छिलके डाल कर उबाल लें और फिर छानकर इसे पीने से गले की खराश में लाभ मिलता है।
5- चेहरा साफ करने में
प्याज़ के छिलकों के रस में थोड़ी हल्दी मिक्स कर लें और अपने चेहरे पर लगाएं। इससे चेहरे के दाग-धब्बे दूर हो जायेंगें और चेहरे पर ग्लो आएगा।

इसे भी पढ़ें: जुकाम और फ्लू के अंतर को कैसे पहचाने

रिपोर्ट: डॉ.हिमानी

Loading...

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.