Loading...

अनेकों बीमारियों से पाएं मुक्ति नंगे पैर घास पर चल कर

by Himani Singh
Bare foot walking on grass

स्वस्थ रहने के लिए लोगो को अधिकतर डॉक्टर द्वारा पैदल चलने या वाक करने की सलाह दी जाती है, जिसमें आप मोजे और स्पोर्ट्स शूज पहनकर वॉक करते हैं। लेकिन ऐसे बहुत ही कम लोग होंगें जिनको इस बात की जानकारी होगी कि घास  पर नंगे पैर चलने, के कितने अद्भुत फायदे हैं।

इसे भी पढ़ें: पैनिक अटैक पर इन बातों का रखें ध्यान

आइये जानते है नंगे पैर चलने से क्या फायदे हो सकते है :

  • नंगे पैर पैदल चलते समय, हमारे पंजों का निचला भाग सीधे धरती के संपर्क में आता है, जिससे एक्युप्रेशर के द्वारा शरीर के सभी भागों की एक्सरसाईज हो जाती है, और कई तरह की बीमारियों से मुक्ति मिलती है।
  • जब हम नंगे पैर घास पर चलते है तब पैरों को भरपूर ऑक्सीजन मिलती है और रक्त संचार बहुत अच्छी तरह से होता है, जि‍ससे थकान और दर्द से राहत मिलती है।
  • नियमित रूप से घास पर नंगे पांव चलने से शरीर में खून का प्रभाह तेज हो जाता है, जोकि आपको दिल की बीमारियों के जोखिम से बचाता है। इसके अलावा इससे खून पतला होता है, जो दिल की कोशिकाओं तक आसानी से पहुंच जाता है।
  • घास पर चलने से पैरो के नीचे की कोमल कोशिकाओं को बड़ी राहत मिलती है जो कि मस्तिष्क की  तंत्रिकाओं द्वारा जुड़ी होती हैं। घास पर कुछ देर तक बैठने या चलने से एलर्जी और छींक से भी मुक्ति मिलती है।
  • सुबह-सुबह ओस में भीगी घास पर नंगे पैर चलना आखों की रौशनी बढ़ाने के लिए रामबाण साबित होती है।
  • प्रातः काल में हरी घास में चलने से सूर्य  की रौशनी भी शरीर को मिलती है जो की विटामिन डी का अच्छा श्रोत है। जिससे हमारी मांसपेशिया मजबूत बनती  हैं।  सुबह30 से 9 बजे और शाम 4 से 5 बजे की धूप हमारी सेहत के लिए बहुत अच्छी मानी जाती  है।
  • आजकल लोगों के बहुत अधिक तनाव में रहने के कारण लोग  डिप्रैशन का शिकार होते जा रहे हैं। ऐसे में सिर्फ 10 मिनट ताजी हवा में सांस ले और घास पर नंगे पांव चले। इससे आपका तनाव भी दूर होगा, साथ ही आपका  दिन एनर्जी से भी भरपूर रहेगा ।

इसे भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी में ये आहार करेंगे आयरन की कमी को दूर

रिपोर्ट: डॉ.हिमानी

Loading...

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.