Home लाइफ स्टाइल जानें क्या है ब्यूटी रूटीन में चावल के पानी शामिल करने के फायदे ?

जानें क्या है ब्यूटी रूटीन में चावल के पानी शामिल करने के फायदे ?

by Naina Chauhan
hair

चावल न सिर्फ खाने के लिए बल्कि त्वचा की खूबसूरती के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। आज के समय में बुहत से ऐसे ब्यूटी प्रोडक्ट्स हैं, जिनमें चावल के पानी का इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है। चावल का पानी अपकी त्वचा के लिए वरदान की तरह है। तो आइए जानते हैं आपकी त्वचा के लिए चावल का पानी किस तरह फायदेमंद है…

इसे भी पढ़े: दिल की धमनियों में ब्लॉकेज की समस्या को कैसे दूर करें?

एंटी एजिंग

चावल का पानी एंटीऑक्सिडेंट्स से भरपूर होता है। चावल के पानी का नियमित इस्तेमाल करने से आपकी त्वचा में कसाव बना रहता है। इसके साथ ही ये आपकी त्वचा को उम्रदराज बनाने वाली कई वजहों जैसे काले घेरे और झुर्रियों से भी बचाता है।

स्किन टोन 

क्लींजिंग और मॉइश्चॉराइजिंग की तरह ही टोनिंग भी त्वचा को स्वस्थ और सुंदर बनाने के लिए बहुत जरूरी है। आप चावल के पानी को एक जार में भरकर उसे ठंडा होने लिए फ्रिज में रख सकते हैं। ये चावल का पानी आपकी त्वचा के लिए टोनर का काम करता है। रुई का टुकड़ा लेकर उससे आप चावल के पानी को अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं। फिर इसे आप अच्छी तरह सूखने के बाद पानी से धो लें।

त्वचा को निखारना

चावल का पानी आपकी त्वचा पर होने वाले दाग-धब्बों को दूर करता है।

इसे भी पढ़े: दिल की धमनियों में ब्लॉकेज की समस्या को कैसे दूर करें?

त्वचा को स्वस्थ बनाना 

चावल के पानी में माड़ होता है, जो त्वचा में होने वाले लालपन, चकत्ते और जलन से बचाता है।

सनस्क्रीन का काम करता है

चावल का पानी आपकी त्वचा को सूर्य की तेज हानिकारक किरणों से खराब होने से बचाता है।

इसे भी पढ़ें: इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए अपनाएं सस्ता और नैचुरल तरीका

त्वचा के कैंसर से सुरक्षा करता है

एंटीऑक्सिडेंट्स से भरपूर होने की वजह से चावल का पानी स्किन कैंसर से लड़ता है और किसी भी प्रकार से होने वाले त्वचा संबंधित रोगों से सुरक्षा करता है।

चावल का पानी कैसे तैयार करें ?

एक बड़े से बाउल में एक कप चावल लीजिए और उसमें 3 कप पानी डालिए. अब इसे 30 मिनट तक ऐसे ही रख दें। उसके बाद चावल के पानी को छानकर अलग कर ले। अब इस पानी को एख जार में भर दे। एक हफ्ते के लिए इसे फ्रिज में रख दें। इस पानी को सिर्फ 7 दिनों तक इस्तेमाल करें।

इसे भी पढ़ें: हृदय रोगों से बचने का उपाय