Home फीचर्स माइग्रेन के दर्द से राहत पाने के लिए अपनाएं ये तरीका

माइग्रेन के दर्द से राहत पाने के लिए अपनाएं ये तरीका

by Naina Chauhan
Published: Last Updated on
migraine

सेहत अगर अच्छी न हो तो कुछ भी अच्छा नहीं लगता, हमारी सेहत जिंदगी को बहुत प्रबावित करती है। ऐसी ही एक परेशानी का नाम है माइग्रेन…माइग्रेन, सिरदर्द की एक बुरी स्थिति है, जिसमें इंसान सिरदर्द को बर्दास्त नहीं कर पाता है। माइग्रेन की परेशानी किसी भी उम्र में हो सकती है। खासकर यह दिमाग में एबनॉर्मल एक्टिविटी के कारण होता है। माइग्रेन का कारण हार्मोन में बदलाव, फूड, एल्कोहॉल ड्रिंक, स्ट्रेस भी होता है।

इसे भी पढ़ें: रातभर में पिम्पल्स की करें छुट्टी इन तरीको को अपनाकर

दूध में तुलसी मिलाकर पिएं –

जब भी आपको माइग्रेन का दर्द हो रहा हो तो ऐसी स्थिति में आप दूध में तुलसी की 7-8 पत्ती को उबाल लें और इसको पीने के लिए इस्तेमाल करें। आपको माइग्रेन अटैक से काफी हद तक राहत मिलेगी। ऐसा इसलिए क्योंकि तुलसी के पत्ते में एंटीडिप्रेसेंट और एंजायटी गुण होते हैं, जो आपको माइग्रेन के दर्द में राहत दिलाएगा।

इसे भी पढ़ें: डार्क सर्कल्स दूर करने के लिए अपनाएं घर पर बना कॉफी आई मास्क

दूध और पेठा का करें सेवन करें-

जब भी आपको माइग्रेन के दर्द के लक्षण दिखने लगे तभी आप दूध और पेठा को मिक्सर में डालकर पांच मिनट घुमाएं। उसके बाद इसे पी लें। यह माइग्रेन अटैक को काफी हद तक कम कर देगा।

migraine

​सिर पर लेप लगाएं-

माइग्रेन के दर्द को कम करने के लिए सिर/माथे पर आप लेप लगा सकते हैं। इस लेप को बनाने के लिए चंदन, दालचीनी और मुलेठी को पीस लें और इसका एक बड़ी चम्मच में लेप बना लें। इसके बाद आप इसे माथे पर या सिर में लगाएं। इस लेप से माइग्रेन क दर्द में राहत मिलेगी।

इसे भी पढ़ें: डार्क स्पॉट को ठीक करने के लिए अपनाएं ये ब्यूटी सीक्रेट

​एंटीडिप्रेसेंट की दवा का सेवन करें-

माइग्रेन के खतरे से बचे रहने के लिए डॉक्टर के सुझाव पर एंटीडिप्रेसेंट दवाओं का सेवन करें। यह आपको माइग्रेन के खतरे से बचाए रखने में मदद करेंगे। एक बात का विशेष ध्यान दें कि बिना डॉक्टर की सलाह के किसी भी दवा का सेवन न करें। नहीं तो इसके दुष्परिणाम भी हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: अंजीर खाने के फायदे