शेयर करें

मस्तिष्क हमारे सम्पूर्ण  शरीर को नियंत्रित  करता है।  रात में हमारा शरीर तो आराम करता है परन्तु  मस्तिक रात में भी नियमित रूप से कार्य करता रहता है। अतः मस्तिष्क को स्वस्थ तथा एक्टिव रखना बहुत ही आवशयक होता है। अपने दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए सही खान-पान और एक्सरसाइज, पूरी नींद, शांतचित रहना तो जरुरी है ही पर कुछ घरेलू नुस्खों की मदद से हम अपने मस्तिष्क की याददाश्त  को  भी बढ़ा सकते है।

इसे भी पढ़ें: कंप्यूटर से रखे बच्चों को दूर, इससे फायदा कम, नुकसान ज्यादा

आईये जानते है इन घरेलु उपायों के बारे में:

  • दो आंवले के गूदे को कद्दूकस करके एक चमच्च शहद के साथ रोज खाने से मस्तिष्क तो तेज होता ही है साथ ही में कब्ज से जुडी समस्या भी सही हो जाती है।
  • थोड़े से अशोक के पेड की छाल और ब्रह्मी के चूर्ण को बराबर मात्रा में लेकर एक चम्मच सुबह और शाम थोड़े से  दूध के साथ रोज लेने से मस्तिष्क तेज होता हैं।
  • सिर में गाय के शुद्ध घी से मालिश करने से भी मस्तिष्क तेज होता है।
  • शहद के साथ लगभग एक चौथाई ग्राम चांदी की भस्म सुबह-शाम खाने से हमारे मस्तिष्क का विकास अच्छे से होता है और स्मरण शक्ति भी  बढ्ती है।
  • रात में सोने से पहले एक चुटकी दालचीनी पाउडर को एक चमच्च शहद के साथ खाने से मानसिक तनाव कम होगा तथा मस्तिक भी तेज होगा।
  • नियमित रूप से लीची का सेवन भी मस्तिष्क को तेज बनाता है।
  • 10 तुलसी के पत्ते, 5 काली मिर्च , 5 बादाम को पीसकर थोड़े से शहद के साथ मिलाकर पीने से मस्तिष्क तेज होता है।
  • कालीमिर्च और मिश्री की बराबर मात्रा को एक गिलास दूध के साथ रोज पीने से मस्तिष्क तेज होता है।
  • थोड़े से पपीते के गूदे को अच्छे से मिक्सर की सहायता से बारीक़ कर ले और एक गिलास दूध के साथ उबालें और कम से कम तीन चार ऊफान आनें दे फिर इसे नीचे उतारकर एक चम्मच देशी घी और स्वादानुसार चीनी को मिलाये फिर जब यह पीने लायक रह जाये तब इसको पी ले। इसका सेवन कम से कम 15 दिन से 40 दिन तक करने से स्मरण शक्ति काफी अधिक बढ़ जाएगी। प्रातःकाल खाली पेट इस दूध को पीने से काफी लाभ होगा। इस दूध को पीने के बाद दो घंटे तक कुछ न खाएं।
  • थोड़े से बादाम को एक कांच के प्याले में थोड़े से पानी में भिगो दे फिर अगले दिन इन बादाम के छिलके उतार कर अच्छे से पीस ले और इसमें कुछ पीसी हुई काली मिर्च मिला ले और रोज इसका सेवन करे ।

इसे भी पढ़ें: अगर आपको है डिप्रेशन, तो आप जल्द हो सकते हैं इस बीमारी के शिकार

रिपोर्ट: डॉ. हिमानी