Home हेल्थ पैरासिटामोल के ओवरडोज से होगें साइड इफेक्ट, जानें इसके बचाव

पैरासिटामोल के ओवरडोज से होगें साइड इफेक्ट, जानें इसके बचाव

by Darshana Bhawsar
medicine

पैरासिटामोल  की अगर बात की जाये तो वैसे यह काफी सुरक्षित होती है लेकिन इसका ओवरडोज़ शरीर के लिए हानिकारक होता है। इसके ओवरडोज़ से कई प्रकार की समस्याएँ उत्पन्न हो जाती हैं और इससे लीवर पर अटैक भी होता है जिससे लीवर कमजोर हो जाता है आज हम जानेंगे पैरासिटामोल के ओवरडोज़ से होने वाले साइड इफ़ेक्ट के बारे में और इससे कैसे बचाव किया जाये इस बारे में।

पैरासिटामोल के ओवरडोज़ के साइड इफ़ेक्ट:

  1. पेट में दर्द
  2. लीवर में सूजन आना
  3. शरीर में सूजन आना
  4. आँखों से कम दिखाई देना
  5. नींद कम या अधिक आना

इसे भी पढ़ें – मेट्रो में सफर करने से पहले जान लें ये जरूरी बातें

पेट में दर्द:

अगर पैरासिटामोल का ओवरडोज़ लिया जाता है तो पेट में दर्द की समस्या के साथ ही साथ पाचन तंत्र पर भी इसका असर पड़ता है। यह इसका बहुत बड़ा साइड इफ़ेक्ट है इसलिए पैरासिटामोल के ओवरडोज़ से बचें और डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही इसका सेवन करें।

लीवर में सूजन आना:

पैरासिटामोल के ओवरडोज़ से कई प्रकार की बड़ी शारीरिक समस्याएँ हो सकती हैं और एक बड़ी समस्या है लीवर में सूजन आना या लीवर डेमेज होना। ये ऐसी समस्याएँ हैं जो शुरुआत में समझ नहीं आती लेकिन धीरे-धीरे आपको इन परेशानियों का अहसास होने लगता है।

इसे भी पढ़ें –इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए अपनाएं सस्ता और नैचुरल तरीका

शरीर में सूजन आना:

जब कभी भी पैरासिटामोल का ओवरडोज़ हो जाता है या आप बिना डॉक्टर की सलाह के निरंतर पैरासिटामोल का सेवन  करते रहते हैं तो इस प्रकार की समस्या आना स्वाभाविक है। और ये सूजन बहुत तकलीफदेय होती है। चलने, बैठने और उठने में भी परेशानी होती है।

इसे भी पढ़ें –लंग्स को स्ट्रॉन्ग रखने के लिए अपनी डाइट में शामिल करें ये चीजें

आँखों से कम दिखाई देना:

पैरासिटामोल का ओवरडोज़ आँखों पर भी बहुत अधिक नकारात्मक असर करता है और इससे आँखों की रौशनी पर भी असर पड़ता है साथ ही साथ आँखों से पानी आना, आँखों में सूजन आना जैसी समस्याएँ भी होती हैं। इसलिए पैरासिटामोल के ओवरडोज़ से स्वयं को बचाएँ।

नींद कम या अधिक आना:

पैरासिटामोल के ओवरडोज़ से वैसे तो अत्याधिक नींद आना स्वाभाविक है लेकिन कभी-कभी इसका असर विपरीत भी हो सकता है और नींद में कमी का होना भी संभव है। और तनाव और अवसाद की समस्याएँ भी उत्पन्न हो जाती है जो सेहत के लिए हानिकारक हैं।

इसे भी पढ़ें –अगर कोरोना वायरस से बचना है, तो ख्याल रखें इन बातों का

ये हमने देखा कि अगर पैरासिटामोल का ओवरडोज़ लिया जाए तो कैसे इसके साइड इफ़ेक्ट लीवर के साथ ही साथ शरीर के अन्य भाग में भी हो सकते हैं। इससे कैसे बचा जाये यह जानना भी जरुरी है:

  1. पैरासिटामोल का सेवन आप किसी चिकित्सक की सलाह से ही करें।
  2. पैरासिटामोल का सेवन करते समय या उसे खरीदते समय उसकी अंतिम तिथि मतलब एक्सपायरी डेट जरुर देखें।
  3. पैरासिटामोल किस प्रकार खाना है उसका समय एवं खाने से पहले  या बाद में कब खाना है, कितनी मात्रा में खाना है डॉक्टर से इसकी भी सलाह लेने के बाद ही पैरासिटामोल का सेवन करें।

तो इस प्रकार से आप इसके साइड इफ़ेक्ट से बच सकते हैं इन बताई गई बातों का विशेष ध्यान रखें और इसके बाद ही पैरासिटामोल का सेवन करें और इसके ओवरडोज़ से बचें

Read More Article On Other Health News In Hindi