ओरल हेल्थ के लिहाज से अधिक माउथवॉश के इस्तेमाल से होने वाले नुकसान

by Mahima
chlorhexidine mouthwash

अधिकाशतः आपके  दन्त चिकित्सक आपको अपने दांतों की सफाई के लिए अनेकों प्रकार के टिप्स  देते होंगे जैसे की दांतों को अच्छे से साफ़ करें, अच्छे और सॉफ्ट ब्रश का प्रयोग करें, खाना खाने के तुरंत बाद ब्रश करें आदि। परन्तु कई बार साफ सफाई  रखने के बाद भी मुँह का कुछ कचरा और जर्म्स नहीं निकल पाते हैं तब उन्हें हटाने के लिए अक्सर दन्त चिकत्सक  माउथवॉश यूज करने की सलाह देते हैं। उचित मात्रा में माउथवॉश का प्रयोग करना ओरल हेल्थ के लिहाज से अच्छा माना जाता है।  परन्तु कई बार हमारे द्वारा माउथवॉश का अधिक प्रयोग हमारे लिए खतरनाक साबित हो सकता है।  दरअसल, माउथवॉश में प्रयोग किये जाने वाले केमिकल स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत नुकसानदेह हो सकते हैं। इनके अधिक प्रयोग करने से मुंह के कैंसर तक होने की संभावना रहती है। अतः कोशिश करें की  केमिकलयुक्‍त उत्‍पादों का प्रयोग कम मात्रा में ही करें। माउथवॉश में कुछ मात्रा एल्कोहल की होती है अतः इसके अधिक उपयोग से कई ओरल हेल्थ प्रॉब्लम होने का खतरा बढ़ जाता है।

इसे भी पढ़ें: मुंह से बदबू आने के कारण

आइए जानते है माउथवॉश के अधिक प्रयोग से होने वाले नुकसान के बारे में :

मुंह में जलन का कारण:  माउथवॉश बनाए के समय इसमें  एल्कोहल का प्रयोग किया जाता है जिसकी वजह से इसमें  एंटीबैक्टीरियल गुण पाएं जाते हैं।एल्कोहल की उपलब्धा की वजह से  यह हमारे मुँह के टिशू  को नुकसान पंहुचा कर मुँह में जलन तथा छालों का  कारण बन सकता है।

इसे भी पढ़ें: कैसे करें अपने दांतों की देखभाल

Loading...

स्वास्थ्य के लिए हानिकारक:  उच्च मात्रा एल्कोहल की होने की वजह से यह स्वास्थ के लिहाज से भी अच्छा नहीं माना जाता है। माउथवॉश का प्रयोग  खासकर बच्चों के लिए हानिकारक होता है।

मुंह का शुष्क रहना : अत्यधिक मात्रा में एल्कोहल वाले माउशवॉश के प्रयोग से मुंह के शुष्क रहने की समस्या बढ़ सकती है। जिससे कैविटी की समस्या के साथ साथ  सांस से बदबू आने की समस्या भी उत्पन्न हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: मसूड़ों की सूजन को कम करने के घरेलू नुस्खे

रिपोर्ट: डॉ.हिमानी

Loading...

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.