शेयर करें

सुंदर और आकर्षित बॉडी का सपना हर कोई देखता है परन्तु बहुत ही कम लोगो का यह सपना पूरा होता है क्योकि आज के समय में शारीरिक परिश्रम से हर कोई दूर भागता है जिसकी वजह से अनेकों बीमारियां शरीर में जगह बना लेती है और शरीर बैडोल हो जाता। हालाँकि बॉडी शेप  में रखने के लिए बहुत से  लोग जिम  का सहारा लेते है। परन्तु हमारे बताये गए व्यायमों को अपनाकर आप  बिना जिम जाये  भी अपनी फिटनेस कायम रख सकते है और मांसपेशियों को मजबूत बना सकते है।

इसे भी पढ़ें: योग करें लेकिन जरा संभलकर

आइये जानते है कौन सी एक्सरसाइज को अपनाकर आप अपनी बॉडी को फिट रख सकते है।

जंपिंग जैक :  यह बहुत ही आसान वर्कआउट  है यह exercise हमे स्कूल में PT के रूप में करवाई जाती थी। यह पुरे शरीर की exercise है। इसे करने के लिए सीधे खड़े हो जायें, फिर ऊपर की और उछलते हुए अपने हाथों को ऊपर की और उठायें और पैरों को साथ में फैलायें, नीचे आने के बाद सामान्‍य स्थिति में आ जायें। इस व्‍यायाम को 2 मिनट तक लगातार करे । इसके बाद 10 सेकेंड तक आराम करें। फिर इसी प्रकार से दो set और complete करे।

ट्राइसेप् डिप: जब हम ट्राइसेप्‍स डिप करते है तो यह हर  मसल्स को टारगेट करती है। हम  इसे जितना चाहे उतना भारी और हल्का  अपने मुताबिक बना सकते हैं। यह घर पर  आसानी से हो जाती है। इस एक्सरसाइज का प्रभाव  मल्टी ज्वाइंट पर पड़ता है। यह  ट्राइसेप्स के साथ साथ आपके शोल्डर और बैक को भी मजबूत बनाती है। क्‍लोज ग्रिप बेंच प्रेस करने से आपके हाथो का  साइज बढ़ता है और बेंच डिप  करने से साइज के साथ साथ हाथ शेप में आते। क्‍लोज ग्रिप बेंच प्रेस करने से आपके हाथो का साइज बढ़ता है और बेंच डिप  करने से साइज के साथ साथ हाथ शेप में आते है। यह एक्सरसाइज हाथों के साथ आपकी जांघों की मांसपेशियों के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है। जब आप यह एक्सरसाइज करते है तब  आपके शरीर का पूरा भार आपके हाथों पर आता है। जब भी आप ऊपर नीचे होते हैं तब दबाव हाथों के साथ पैरों पर भी पड़ता है जिससे हाथ और पैरों दोनों की मांसपेशियां मजबूत बनती है।

इसे भी पढ़ें: रोजना करें गोरक्षासन, नहीं होंगी शरीर में यह परेशानी

यह एक्सरसाइज करने के लिए आपको अपने शरीर के पीछे एक छोटी सी मेज को रखना होगा फिर आप अपनी कमर को उस मेज की तरफ करते हुए अपने  दोनों हाथो को मेज पर रखे। इसके बाद आप अपने घुटनों को मोड़ते हुए अपने पुरे शरीर को अपने हाथो के सहारे ऊपर और नीचे करने का प्रयास करे। शुरुआत में आप इसके 12–12 के दो सेट करे फिर धीरे धीरे अपनी सामर्थ के हिसाब से इसे बढ़ा ले ।

रिपोर्ट: डॉ. हिमानी