Loading...

गर्मियों के दिनों में इस प्रकार रखें वर्कआउट के समय ध्यान

by Himani Singh
workout

यदि आप वर्कआउट करने के शौक़ीन है तो  गर्मी के मौसम में वर्कआउट करना बाकी मौसम की तुलना में काफी हद तक आपको परेशान कर सकता है। गर्मियों में निकलता अधिक पसीना काफी हद तक आपके वर्कआउट में परेशानी उत्पन्न कर सकता है, परन्तु इसका मतलब ये बिलकुल भी नहीं की आप वर्कआउट करना छोड़ दें।  रिसर्च के अनुसार अगर कोई इंसान जो वर्कआउट करता है और चार से छह हफ्ते तक निष्क्रिय रह जाए तो वर्कआउट से मिलने वाले फायदे बेकार हो जाते हैं। व्यायाम न करने से इम्युनिटी कमजोर हो जाती है, साथ ही स्ट्रेस हॉर्मोन्स बढऩे लगते हैं। इसके अलावा हीट स्ट्रोक और कई तरह के इन्फेक्शंस हो सकते हैं। इसलिए गर्मी में खानपान और व्यायाम के बीच सही संतुलन जरूरी है। साथ ही यह भी बेहद जरूरी है कि गर्मी से आपका वर्कआउट प्रभावित न हो, लेकिन इस मौसम में वर्कआउट के दौरान कुछ सावधानियां भी जरूर होती  है।

इसे भी पढ़ें: डिलीवरी के बाद कैसे घटाएं अपना वजन

आइये जानते हैं गरमी के मौसम में वर्कआउट के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए :

  • सुबह का समय निर्धारित करें  एक्सरसाइज़ के लिए:   गर्मियों में वर्कआउट करने के लिए सुबह का समय सही होता है क्योकि सुबह तापमान थोड़ा कम होता है। सुबह 10 बजे से दोपहर 3 बजे के बीच में  इंटेंस फिजि़कल एक्टिविटीज से बचना चाहिए, क्योंकि इस समय गर्मी बहुत ज़्यादा होती है।
  • स्मार्ट एक्सरसाइज़ का चयन करना चाहिए : गर्मियों में हेवी एक्सरसाइज़ की जगह हल्की-फुल्की स्ट्रेचिंग या योग का सहारा लेना बेहतर विकल्प होता है। अधिक गर्मी में कई प्रकार की स्ट्रेचिंग द्वारा भी अपने आपको लचीला तथा स्वस्थ रखा जा सकता है।
  • अपने आपको तापमान में ढलने लायक बनाएं : गर्मियों में अक्सर हम लोग एसी या कूलर में रहने के आदि हो जाते हैं अतः हम लोगो को  दिन में कुछ देर एसी या कूलर  से अलग रहने की आदत डालना चाहिए । इससे हमारे शरीर को ,बाहरी तापमान के साथ संतुलन बिठाने  में आसानी होती है। एक्सपर्ट्स के अनुसार शरीर को मौसम के अनुसार ढलने में 4  से 14 दिन लग सकते हैं।
  • लिक्विड डाइट का सेवन करते रहना चाहिए : पसीना निकलने के कारण गर्मियों में शरीर से काफी मात्रा में साल्ट निकल जाते हैं अतः अपने शरीर का साल्ट वाटर बैलेंस बनाए रखने के लिए वर्कआउट से पहले और बाद में उचित मात्रा में पानी पीना ज़रूरी होता  है। कोशिश करना चाहिए कि इस मौसम में  अल्कोहल और  कैफीनयुक्त पेय पदार्थों का सेवन कम से कम करें।

इसे भी पढ़ें: ऐसे पहचाने स्तन कैंसर के शुरुआती चेतावनी संकेतों को

रिपोर्ट : डॉ.हिमानी

Loading...

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.