शेयर करें
burb

नवजात बच्चे का आकार छोटा है लेकिन उनके भी हर चीज उसी तरह जरूरी होती है जितनी कि एक बड़े व्यक्ति के लिए होती है। जब भी बच्चा दूध पीए तो उसे डकार दिलाना जरूरी होता है। वरना वो दूध बाहर निकाल देता है, क्योंकि वो उसे सही ढंग से पच नहीं पाता है। डॉक्टर्स कहते हैं कि कई बार बच्चे के पेट में हवा भर जाती है जिसका किसी न किसी रूप में बाहर निकलना बहुत जरूरी है। अगर ऐसा न हो तो बच्चा कब्ज का शिकार हो सकता है।

इसे भी पढ़ें: नवजात शिशुओं के रोते समय क्यों नहीं टपकते आंसूं

बच्चे को डकार दिलाना क्यों है जरूरी?

  • आपका शिशु रूक–रूक कर दूध पी रहा हो या धीरे–धीरे दूध पी रहा है तो डकार लेने का यही सही समय है। हालांकि आपका बच्चा दूध पीने पर उनके रोने और अधिक हवा निगलने पर वह डकार लेने की कोशिश करता है।
  • डकार लेने की क्रिया को अपने बच्चे की पीठ को हल्के हाथ से थपथपाने के द्वारा करें। हल्के हाथ से हिलाते हुए अपने बच्चे की पीठ को थपथपाएं और रगड़ते हुए इस युक्ति को करें।
  • अपने शिशु को डकार देने के लिए यहां अलग–अलग स्थितियों का चुनाव करें, जो आप दोनों के लिए सुविधाजनक हो।
  • जब आप सीधे बैठे हो तो अपने बच्चे को पकड़े उसकी थोढ़ी आपके कंधो पर टिकी हो। अपने एक हाथ से अपने बच्चे की पीठ और निचले भाग (नितम्ब) को सहारा दें जबकि दूसरे हाथ से बच्चे की पीठ को धीरे से थपथपाएं और रगड़े।
  • शिशु के शरीर को आगे की ओर झुकाएं हालांकि आप एक हाथ से उसकी चेस्‍ट और सिर को सहारा दे और दूसरे हाथ से बच्चे की पीठ को हल्के हाथ से थपथपाएं।
    इस स्थिति जब आप उसके चेहरे और पेट को पलट कर (बच्चे को उल्टा लिटा कर) धीरे से उसकी पीठ को थपथपाएं।

इसे भी पढ़ें: किन प्रोटीन युक्त पदार्थो का सेवन जरुरी होता है गर्भावस्था में