शेयर करें
mom and baby

बदलते वक्त के साथ आज की महिलाए भी पूरी तरह से  सशक्त हो गयी है वह आज किसी भी काम में पुरुषों से पीछे नहीं है हर  क्षेत्र में आज कल महिलाओं ने अपनी जगह बनाई हुई जिसकी वजह से उनके  सम्मान में  भी वृद्धि हुई है। इसके बावजूद कुछ नहीं बदला है, तो वो है माहिलओं की जिम्मेदारी… जी हाँ  खाना बनाना और बच्चों की देखभाल अभी भी महिलाओं की जिमेदारी मानी जाती है और अगर  कामकाजी महिला है तो उसको  दोहरी जिम्मेदारी निभानी पड़ती है। कामकाजी महिलाओं को ऑफिस और घर की ,खास कर बच्चों की जिम्मेदारी के बिच तालमेल बिठाना मुश्किल हो जाता है।

इसे भी पढ़ें: मां के दूध से वंचित नवजात शिशुओं के लिए खुला ‘ह्यूमन मिल्क बैंक’

हम यहाँ आपको कुछ ऐसे टिप्स बताएंगे जो आपको ऑफिस के साथ साथ अपने बच्चों की परवरिश को भी बेहतर बनाने में मददगार होंगी।

अपनी प्राथमिकता सूची को तय करें: घर और आफिस के बीच में सबसे पहले तय करें की आपके लिए आपकी प्राथमिकता सूची में सबसे ऊपर क्या है? यदि आपकी प्राथमिकता सूची में सबसे ऊपर बच्चा है तो फिर इस बात पर विचार करें कि बच्चे की देखभाल के बारे में आप किन-किन चीजों पर ध्यान देंगी। किस सीमा तक उसके साथ समझौता कर सकती हैं।

संतुलन बनाएं: आप अपने घर और ऑफिस के काम में संतुलन बनाये । इसके लिए आप ऑफिस का काम ऑफिस में ही निपटा कर आये उसको घर पर लाने की कोशिश न करें, जिससे आप घर पर आकर अपने परिवार और बच्चो को पूरा समय देंगी। यदि एक बार आपको  घर और ऑफिस के काम में संतुलन बनाना आ गया तो आपकी सारी प्रॉब्लम सॉल्व हो जाएगी।

इसे भी पढ़ें: जाने आपका बच्चा क्यों अंगूठा चूसता है

सही ऑफिस का चुनाव करें: कोशिश करें ऐसी कंपनी में काम करें, जिस कंपनी मैं मां के तौर पर आपकी जिम्मेदारी के प्रति संवेदनशीलता बरती जाती हो। कोशिश करें ऐसे ऑफिस का चुनाव आपके द्वारा हो जहां का समय थोड़ा लचीला हो। ऐसी स्वतंत्रता आपके परिवार और ऑफिस के बीच में संतुलन बना सकती है तथा ऐसी ऑफिस का चुनाव करें जहां वीकेंड ऑफ दो दिन का होता हो ऐसे में आप अपने बच्चों को अधिक समय दे पाओगी।

वीकेंड में बच्चो को समय दें: वीकेंड पर खाली रहने की कोशिश करें और पूरी तरह से बच्चो के साथ बितायें क्योकि बच्चों को वीकेंड का बड़ी बेसब्री से इंतजार होता है, क्योंकि उनको लगता है की वीकेंड पर आप बच्चों को पूरा समय देंगी । इसके लिए वीकेंड पर खाली रहने के लिए हफ्ते में हर दिन छोटे-छोटे काम निपटा लें, जिससे आप छुट्टी के दिन बच्चे के साथ पूरा समय व्यतीत कर सकें।

इसे भी पढ़ें: इन आसान उपायों को अपनाकर पाएं नवजात शिशु के अनचाहे बालों से छुटकारा

रिपोर्ट: डॉ.हिमानी