शेयर करें
back allergy

हमारी पीठ पर छोटे छोटे दाने होने का कारण  हमारी पीठ का  साफ़ न रह  पाना माना जाता है।  हम अपने शरीर के उन अंगो को तो आसानी से साफ़ कर लेते है जहाँ हमारे हाथ आसानी से पहुँच जाते है परन्तु पीठ तक हमारा हाथ आसानी से  नहीं पहुँच पाता है। नहाते समय हमारी पीठ ठीक प्रकार से साफ़ नहीं हो पाती है जिसके कारण धीरे-धीरे पीठ पर मैल की परतें जमना शुरू हो जाती है। मैल व गंदगी के कारण पीठ पर दाने तथा काले धब्बे हो जाते है जिनकी वजह से अनेकों समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं

इसे भी पढ़ें: शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए जरूरी तथ्य

आइये जानते हैं पीठ पर होने वाले  इन दानों की समस्या से आप कैसे मुक्ति पा सकते हैं :

  • शरीर को भीतर से ठंडक पहुंचाने वाला खीरा पीठ के कील-मुंहासों को दूर करने में काफी मददगार हो सकता है। यह स्किन को हाइड्रेट तो करता है ही साथ ही त्वचा के बंद रोम छिद्रों को भी खोलता है, जिससे पीठ पर कील-मुंहासों की समस्या से छुटकारा मिलता है। पीठ के कील-मुंहासे हटाने के लिए एक खीरा लेकर इसे कद्दूकस करें और पीठ पर लगाएं। अब कुछ देर इसे यूं ही छोड़ दें। अंत में सादे पानी से स्किन को साफ करें।
  • पीठ पर होने वाले दानों से छुटकारा पाने के लिए एक प्राकृतिक स्क्रब बना सकते हैं ।यह स्क्रब  मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने में मदद करता है, जो कि  हमारे रोम छिद्रों को बंद  कर सकते हैं और फुंसियाँ फैलने का कारण बनते है। एक कटोरी में सफेद चीनी के 1 1/2 कप और खुरदुरे समुद्री नमक के 1/2 कप के साथ कुछ अंगूरों  को निचोड़ें। प्रभावित क्षेत्रों में मालिश करें, फिर आराम से सुखाएं और फिर साफ़ पानी से धों ले।
  • पी एच आपकी त्वचा की क्षारीयता को बनाये रखने में बहुत मदद करता है। वैज्ञानिकों के अनुसार 5 से नीचे के पीएच की त्वचा  त्वचा में  बैक्टीरिया को बढ़ने में अधिक मदद प्रदान करते हैं। अधिक पी एच वाले  साबुन, शैम्पू का उपयोग, विशेष रूप से त्वचा का पीएच 5 से ऊपर ले जा सकते हैं, जिससे सूखापन, पपड़ी उतरना और फुंसियों का फैलाव हो सकता है।

इसे भी पढ़ें: मूंगफली के तेल में बनाएं खाना, डायबिटीज और दिल की बीमारियां रहेंगी दूर

अपने शरीर के पी एच  को बनाये रखने के लिए एक स्प्रे बोतल में एक हिस्सा एप्पल साइडर विनेगर का और एक हिस्सा पीने के पानी का मिश्रण तैयार करें। स्नान के बाद और सोने से पहले, आपकी त्वचा पर सिरका मिश्रण का स्प्रे करें और सूखायें। इस प्रक्रिया से स्वाभाविक रूप से आपकी त्वचा की पीएच कम होगी।

  • ढीले कपड़े पहनें इसके लिए, सुनिश्चित करें, कोई भी कपड़ा जो आपकी पीठ को छूए वह साफ हो और यदि संभव हो तो, कॉटन से बना हो। कॉटन आपकी त्वचा से पसीने निकाल देता है।

नोट: – यदि आपको ज्यादा परेशानी का अनुभव हो  तो आपको तुरंत किसी चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

रिपोर्ट: डॉ.हिमानी