Home लाइफ स्टाइलखानपान शुद्ध देशी घी से पाएं अनेकों मर्जों की दवा

शुद्ध देशी घी से पाएं अनेकों मर्जों की दवा

by Mahima
Desi Pure Ghee

आमतौर पर हम लोग घी का प्रयोग खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए करते है। परन्तु आयुर्वेद में इसके सेवन से कई स्वास्थ लाभ हैं। घी को अलग-अलग प्रकार से उपयोग में लाकर हम विभिन्न प्रकार से अपने आप को स्वस्थ रख सकते हैं ।

इसे भी पढ़ें: खड़े होकर पानी पीना हो सकता है नुकसानदायक

यहां हम आपको बता रहे हैं, घी के प्रयोग से होने वाले बहुत से फायदों के बारे में :

एक चम्मच शुद्ध घी, एक चम्मच पिसी मिश्री, चौथाई चम्मच पिसी कालीमिर्च तीनो को मिलाकर गर्म दूध के साथ पीने से आँखों की रौशनी तेज होती हैं।

घी, छिलका सहित पिसा हुआ काला चना और बूरा तीनों को समान मात्रा में मिलालें और इससे लड्डू बना कर नियमित रूप से खाली पेट एक गिलास गुनगुने दूध के साथ खाने से महिलाओ के प्रदर रोग में आराम मिलता है और पुरुषों का शरीर सुडौल और बलवान बनता है।

इसे भी पढ़ें: सर्दी जुकाम से हैं परेशान तो अपनाएं ये आसान घरेलु उपाए

  • रात में सोने से कुछ देर पहले एक गिलास दूध में एक चम्मच घी डालकर पीने से शरीर की खुश्की और दुर्बलता ख़त्म होती है और नींद गहरी आती है और सुबह शौच साफ होती है।
  • एक चम्मच घी में 1/4 चम्मच नमक को डाल कर अच्छी प्रकार से मिला लें, फिर इसे फटी एड़ियों पर रोज़ रात को सोते समय लगाने से फटी एड़ियां ठीक हो जाती हैं।
  • बहुत से लोगों को हथेलियों और तलवों में जलन कि शिकायत रहती हैं अतः ऐसी अवस्था में हथेलियों और तलवों पर घी की मालिश कुछ दिनों तक करते रहने से जलन सही हो जाती है।
  • इसमें बहुत मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट उपस्थित होते है जो कि फ्री रेडिकल्‍स से लड़ते है नियमित रूप से चेहरे पर इससे मालिश करने से चेहरा चमकदार होता हैं।
  • शराब या किसी मादक पदार्थ का नशा मिटाने के लिए 5 -6 चम्मच गाय के घी में एक चम्मच चीनी को मिलाकर तवे पर थोड़ा गर्म करके देने से नशा तुरंत उतर जाता हैं।
  • छोटे बच्चों को सर्दी जुकाम लगने पर थोड़े से देशी घी में लहसुन कि कुछ कलिया डालकर गर्म करके सीने और पीठ पर मालिश करने से बहुत लाभ होता हैं।
  • रात को सोने से पहले आंखों के नीचे घी लगा कर थोड़े देर मसाज करके छोड़ दें और दूसरे दिन सुबह सादे पानी से आंखों को धो लें। रोज ऐसा करने से डार्क सर्कल कम हो जाते हैं।

रिपोर्ट:डॉ.हिमानी

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.