शेयर करें
ankle

कपूर के फायदो की बात करें तो यह हमारे स्वास्थ के लिए काफी लाभदायक होता है। इसे हम पूजा में भी इस्तेमाल करते हैं ताकि हमारे घर का वातावरण शुद्ध बना रहे। अगर आप कपूर का इस्तेमाल नहीं करते तो आज से ही करना शुरू कर दीजिए। इससे आपके शरीर के दर्द दूर हो जाएगे, साथ ही साथ मांसपेशियों की भी दिक्कत दूर हो जाएगी।

इसे भी पढ़ें: बालों का झड़ना और रुसी का समस्या को इस तरह करें दूर

सर्दियों में इस तरह करें कपूर का इस्तेमाल

अगर आप सर्दियों में फटे पैर और होठों से परेशान हैं तो इस परेशानी को दूर करने के लिए कपूर का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपकी त्वचा अच्छी हो जाएगी। स्किन पर चाहे दाग धब्बे की समस्या हो या चेहरे की जलन या कुछ और समस्या हो, कपूर के इस्तेमाल से सब सही होता है। कपूर का तेल वाकई बहुत फायदेमंद होता है। आज हम आपको फटी एड़ियों के लिए कपूर के तेल के फायदे और इस तेल को बनाने का तरीका बता रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: अपनी रंगत को निखारें इन आसान घरेलू उपायों से

कपूर के लाभ

  • मांसपेशियों के दर्द को कपूर से दूर किया जा सकता है। मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द होने पर कपूर के तेल से मा‍लिश कीजिए। आराम मिलेगा और दर्द समाप्‍त हो जाएगा।
  • कपूर बहुत खुशबूदार होता है। इसकी खुशबू और रासायनिक भिन्‍नता किसी देश में पैदा होने वाले कपूर के वृक्ष पर निर्भर करती है। कपूर के धुएं से आसपास का वातावरण अच्‍छा होता है।
  • कपूर, आजवायन और पिपरमेंट को बराबर मात्रा में लीजिए, इनको एक शीशी में डालकर मिला लीजिए और उस शीशी को धूप में रख दीजिए। बीच-बीच में इस घोल को हिलाते रहिए। इसकी चार से आठ बूंदें बताशे में या चीनी के शर्बत में मिलाकर दस्‍त के रोगी को दीजिए। इससे दस्‍त में आराम मिलेगा।
  • कपूर चेहरे की खूबसूरती बढ़ाने के लिए रामबाण इलाज है। कपूर के नियमित प्रयोग से चेहरे का सांवलापन, पिम्पल्स और दाग-धब्बे जड़ से खत्म होते हैं। इसे लगाने के लिए कपूर के चूर्ण को नारियल के तेल में मिलाएं और दाग-धब्बे या पिम्पल्स वाली जगह पर लगाएं। कुछ ही दिनों में असर आपके सामने होगा। इसके अलावा इस मिश्रण से चेहरे की 10 मिनट तक मसाज भी की जा सकती है।
  • इंफेक्शन कभी भी किसी को भी हो सकता है। इसलिए समझदारी इसी में है कि हम इस ओर ध्यान दें। कई बार अचानक से हमारी त्वचा जल जाती है। एेसे में कपूर की कुछ बूंदों को जली हुई त्वचा पर लगाने से आराम मिलता है। इससे जलन कम होती है और इंफेक्शन का डर भी नहीं रहता।

इसे भी पढ़ें: डार्क सर्कल और रूखापन दूर करने के लिए लगाएं गाजर का फेसपैक