Home फिटनेसवजन घटाना मोटापा कम करने के लिए बदलें अपनी दिनचर्या

मोटापा कम करने के लिए बदलें अपनी दिनचर्या

by Darshana Bhawsar
fat

मोटापा कम करने के लिए कई प्रकार के कार्य करने होते हैं जैसे व्यायाम, भोजन पर नियंत्रण और दिनचर्या में परिवर्तन। अगर आप ये सोचते हैं कि सिर्फ खाने पर नियंत्रण करने से वजन कम हो जाये या सिर्फ व्यायाम से वजन कम हो जाये तो यह संभव नहीं है। वजन बढ़ने के भी कई कारण होते हैं तो वजन कम करने के लिए भी आपको अनेक कार्य करने ही पड़ेंगे। अगर आप सोच रहे हैं कि आपका वजन कम हो जाये और आप भी फिट रहे तो सबसे पहले आप अपनी दिनचर्या पर ध्यान दें। जैसे आप पूरे दिन में क्या करते हैं, क्या खाते हैं और कितने बजे उठते हैं। इसके बाद आप इस दिनचर्या का पालन करें। यह सिर्फ दिनचर्या ही नहीं हैं इसमें आपको यह भी बताया जायेगा कि आप कब क्या खाएँ और कब व्यायाम करें और कितनी देर तक व्यायाम करें।

इसे भी पढ़ें: वजन कम करने के लिए आयुर्वेदिक घेरलू उपाय

जब बात वजन कम करने की आती है तो कई प्रकार के कार्य करने होते हैं। कई बार लोग कहते हैं कि समय नहीं होने की वजह से वे व्यायाम नहीं कर पाते लेकिन असलियत में तो वे खुद नहीं चाहते कि वे व्यायाम के लिए समय निकाले। पूरे दिन में 24 घंटे होते हैं। अगर आप 8 घंटे की नींद लेते हैं और 10 घंटे आप अपनी काम को देते हैं तो भी आपके पास 6 घंटे का समय होता है। यह समय आप एन्जॉयमेंट और कई अन्य चीज़ों में दे सकते हैं। इस 6 घंटे में से आपको सिर्फ 1 घंटा ही अपने व्यायाम को देना है। इसलिए यह कहना गलत होगा कि आपके पास व्यायाम के लिए समय नहीं है। यह व्यायाम आपके ही शरीर के लिए काफी अच्छा होगा। इसलिए व्यायाम से दूर न भागें और अपनी दिनचर्या में परिवर्तन करें।

मोटापा कम करने के लिए बदलें अपनी दिनचर्या:

इसे भी पढ़ें: डिलीवरी के बाद मां और शिशु के लिए लाभकारी खाद्य पदार्थ

  • सुबह उठना:

सुबह उठने का एक नियम होना चाहिए तो आप सुबह कम से कम 6 बजे तो उठ ही जायें। सुबह 6 बजे का समय बहुत ही उम्दा होता है। इस समय आप अपने दैनिक कार्य करें। और ध्यान रखें कि मंजन के पहले आपको कम से कम 2 लीटर पानी जरूर पीना है। इससे आपका पेट साफ़ होगा और मोटापा भी कम होगा। सुबह उठने के बाद 1 घंटा खुद को दें जिसमें आप दैनिक कार्य करें, चाय में ग्रीन टी लें और अखबार का मजा लें। ध्यान रखें कि आपको पूरे दिन में पानी भी अधिक से अधिक पीना है।

  • सुबह की सैर या व्यायाम:

सुबह 6 बजे उठें और इसके 1 घंटे बाद मतलब 7 बजे आप सैर के लिए जायें या आप व्यायाम करें। 7 से 8 बजे तक आप व्यायाम जैसे कुछ कार्य करें जिससे आपके शरीर से चर्बी बाहर निकल जाये और आपके शरीर में तरावट आये और ऊर्जा का प्रवाह हो। ये 1 घंटे का व्यायाम आपके लिए बहुत फायदेमंद होगा इसलिए ये 1 घंटे का समय खुद के लिए जरूर निकालें।

इसे भी पढ़ें: सब्जियों के जूस से करें मोटापा कम

  • सैर या व्यायाम के बाद कुछ हल्का सा खा लें या पी लें:

सैर या व्यायाम के बाद आप प्रोटीन या फिर कुछ नाश्ता कर लें। नाश्ते में आप ब्रेड या फिर तली हुई चीज़ें न खाएँ। आप जूस, अंडा जैसी चीज़ें खाएँ या पियें। इनसे आपके शरीर पर बहुत ही उम्दा असर होगा। आपको इससे एनर्जी मिलेगी और आप स्वस्थ्य रहेंगे। मासिक तनाव कम करने में भी व्यायाम और सैर बहुत सहायक हैं। कुछ खाने के बाद आप अगर कहीं जाना चाहते हैं जैसे आपकी नौकरी या कुछ और तो आप जा सकते हैं।

  • दिन का खाना:

दिन का खाना बहुत ही ऊर्जावान होना चाहिए इसमें आपको सब कुछ खाना है जैसे दही, दाल, सब्जी रोटी इत्यादि। इनसे आपको पूर्ण रूप से पोषक तत्व मिलेंगे। तो दिन का खाना आप 1 से 2 बजे के बीच ही खा लें। खाने को अच्छे से चबाकर खाएँ। आप खाना खाने के बाद पानी न पियें और खाने के बाद कम से कम 15 मिनिट की वॉक करें। यह बहुत ही ज्यादा जरुरी हैं।

इसे भी पढ़ें: स्तनपान के दौरान ब्रेस्ट कम्प्रेशन के लाभ

  • शाम का नाश्ता:

शाम के समय आप थोड़ा हल्का नाश्ता ले सकते हैं इसमें आप नट्स या फिर जूस या फिर नारियल पानी पियें। यह आपकी सेहत के लिए भी अच्छा होगा और आपके मोटापे पर नियंत्रण भी रखेगा। और इससे आपका पेट बहुत ज्यादा नहीं भरेगा तो आप शाम को खाना भी ठीक से खा सकेंगे। इस समय आप कोई फल भी खा सकते हैं।

  • शाम का खाना:

शाम के खाने के लिए आप 8 से 10 बजे का समय चुनें। यह समय शाम के खाने के लिए सबसे सही समय होता है। अगर आप 9 बजे तक शाम का खाना खा लेते हैं तो बहुत अच्छा होगा लेकिन अगर आप इस समय खाना नहीं खा पाते और लेट हो जाते हैं तो 10 बजे तक खाना खा लें इससे ज्यादा लेट न करें। शाम के खाने में आप मूंग की दाल, दलिया, ओट्स, सूप ऐसी ही चीज़ें खाएँ। रात के समय हल्का खाना ही खाएँ। और खाने के बाद फिर 15  मिनिट वॉक करें। इसके बाद आप सो जायें। सोने के लिए आप 11 बजे का समय चुनें। ऐसे आप अपने समय का निर्धारण करें। यह समय आप अपने अनुसार भी चुन सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: इन घरेलु उपायों से करें अपने शिशु की सर्दी जुकाम से सुरक्षा

ऐसे अपनी दिनचर्या का पालन करें और अपने दिन को स्फूर्तिवान बनाएं। खाने का समय, व्यायाम का समय, सोने और जागने का समय सब कुछ आप निर्धारित करें। अगर आप ऐसी दिनचर्या का पालन करेंगे तो आप बीमारियों से भी दूर रहेंगे और आप मोटापे को भी दूर भागने में सक्षम रहेंगे। आप प्रोटीन की मात्रा भी खाने में बढ़ाएं जिसके लिए आप अंडा, चिकिन, मछली, पनीर, अंकुरित अनाज इन सभी का सेवन कर सकते हैं। आप फलों का भी सेवन अधिक करें जैसे पपीता, तरबूज, कीवी, सेब इत्यादि।

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.