आकर्ण धनुरासन से दूर होगी आपकी बॉडी की ये समस्याएं

by Mahima
akarna dhanurasana

योगासन का नियमित रूप से अभ्यास करना सेहत के लिए काफी सेहतमंद होता है। इससे हमारे शरीर में फुर्ती बनी रहती है। लेकिन योगासन भी अलग-अलग तरह के होते हैं। जैसे- कमर और कंधों के दर्द के लिए आकर्ण धनुरासन होता है।

इसे भी पढ़ें: सर्दियों में योग से मिलता है दोगुना फायदा

इस आसन को करने के दौरान आपके शरीर की आकृति धनुष चलाने वाले योद्धा जैसी हो जाती है, इसलिए इसे आकर्ण धनुरासन कहते हैं। इसके अलावा ये आसन आपके भुजाओं, कंधों, जांघों और पिंडलियों को मज़बूत और सुडौल बनाता है। आकर्ण धनुरासन आपके फेफड़ों के लिए भी बहुत फायदेमंद है। ये आसन फेफड़ों को मजबूत बनाता है, जिससे सांस के रोगियों को बहुत लाभ मिलता है।

इसे भी पढ़ें: खूबसूरत फिगर के लिए करें ये योगासन

कैसे करें आकर्ण धनुरासन

Loading...
  • इस आसन को करने के लिए सबसे पहले अपने पैरों को सामने की तरफ फैलाएं।
  • दोनों एड़ियों और पंजों को आपस में मिलाइए।
  • अब दाएं हाथ से बाएं पैर के अंगूठे को पकड़िए और बाएं हाथ से दाएं पैर तक के अंगूठे को पकड़िए।
  • बाएं हाथ से अपने दाएं पैर को मोड़ते हुए इसके अंगूठे को बाएं कान से स्पर्श करिए।
  • इस दौरान कोहनी ऊपर की ओर रखें और सामने की तरफ देखें।
  • इसी तरह बाएं पैर को खींच कर दाएं कान के पास लाकर इस आसन को दोहराइए।
  • इस स्थिति में 15-30 सेकंड या जितनी देर रह सकें, रहें और फिर पहले वाली पोजीशन में आ जाएं।
  • इस आसन के दौरान गहरी-गहरी सांसें भरते और छोड़ते रहें।

फेफड़े बनते हैं मजबूत

शहरों के साथ-साथ गांवों में भी अब वायुप्रदूषण एक बड़ी समस्या बन गई है। प्रदूषण में सांस लेने के कारण आपके फेफड़े कमजोर हो जाते हैं। यही कारण है कि पिछले एक दशक में फेफड़ों और सांस के रोगियों की संख्या बहुत बढ़ गई है। आकर्ण धनुरासन का नियमित अभ्यास आपके फेफड़ों को मजबूत बनाता है। सांस के रोगियों के लिए ये योगासन फायदेमंद है मगर उन्हें अपने चिकित्सक से एक बार इस बारे में सलाह ले लेनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: दिल की बीमारी को जड़ से खत्म करता है योग

शरीर में होता है बेहतर रक्त प्रवाह

आकर्ण धनुरासन के अभ्यास से पूरे शरीर की नसों और नाड़ियों में रक्त प्रवाह बेहतर है। अगर आपके शरीर में रक्त प्रवाह ठीक न हो, तो कई तरह की समस्याएं शुरू हो जाती हैं। इस आसन के अभ्यास से दिल के रोगों से भी बचाव रहता है। देखने में ये आसन आपको कठिन और उलझाऊ लग सकता है, मगर इस आसन को एक-एक स्टेप करेंगे, तो ये बहुत आसान आसन है।

Loading...

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.