शेयर करें

नई दिल्ली। ब्रेकअप जब भी ये शब्द कानों में पड़ता है तो एक ही बात दिमाग में आती है कि, लड़की का दिल टूट गया होगा। लेकिन क्या आपको पता है कि ब्रेकअप की जितना असर लड़की पर पड़ता है उतना लड़के पर भी पड़ता है। लड़कियां अपनी सिचुएशन को रोकर, बातचीत करके हैंडल कर लेती हैं, लेकिन लड़कों के साथ ऐसा नहीं है। ब्रेकअप के बाद लड़कियों से ज्यादा टूट जाते हैं लड़के। उनका हर पल मौत के बराबर हो जाता है।

अकेलापन

जब लड़की ब्रेकअप करके चली जाती है, तो लड़का मानसिक रूप से अकेला पड़ जाता है। वह ना तो किसी से फोन पर बात करता है, और ना ही कही घूमने जाता है। हद तो तब हो जाती है जब वह घर से बाहर नहीं निकलता । उसे उम्मीद रहती है कि उसका पार्टनर आएगा और उसे अकेलेपन से निकालकर ले जाएगा।

निराशा

अकेले में अकसर लड़के यही सोचते हैं कि जब वह साथ थी तो उसके कभी कद्र नहीं की। लेकिन आज जब वह बहुत दूर जा चुकी है, उसकी कमी खल रही है। वह उसे पाने की हर संभव कोशिश करता है। इतना ही नहीं वह अपनी पार्टनर की सहेलियों, परिचितों से भी कांटेक्ट करता है, ताकि उसकी पार्टनर वापिस आ जाए।

दिलासा

लड़के ब्रेक होने के बाद कई दिनों तक खुद को दिलासा देते रहते हैं। वह खुद को ही कहते हैं कि नहीं, उसने ब्रेकअप नहीं किया। असल में उसे कुछ वक्त अकेले में गुजारना है। इसलिए उसने ब्रेकअप का सहारा लिया।